-एयरफोर्स ने विमान से किया चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी होते हुए सीमावर्ती क्षेत्र का इंस्पेक्शन

-15 अक्टूबर तक चलेगा युद्धाभ्यास, नेलांग बॉर्डर पर आर्मी व आईटीबीपी भी कर रही संयुक्त युद्धाभ्यास

dehradun@inext.co.in
उत्तरकाशी: सीमांत जिले उत्तरकाशी में वायु सेना और सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास शुरू हो गया है, जो 15 अक्टूबर तक चलेगा. इसी क्रम में वायु सेना के विमान ने मंगलवार को सीमावर्ती क्षेत्र का हवाई निरीक्षण किया.

इसके लिए सुबह से ही चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर पुलिस फोर्स भी तैनात रही. उधर, नेलांग बॉर्डर पर सेना व आईटीबीपी (भारत-तिब्बत सीमा पुलिस) का संयुक्त युद्धाभ्यास भी जारी है.

हवाई इंस्पेक्शन किया

गत एक अक्टूबर को चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी का निरीक्षण करने आए एयर मार्शल डीएस रावत ने कहा था कि इसी माह सेना और वायु सेना चिन्यालीसौड़ में संयुक्त युद्धाभ्यास करेगी. तब उन्होंने चमोली व उत्तरकाशी जिलों से लगी भारत-चीन सीमा का हवाई निरीक्षण भी किया था. इसके बाद आठ अक्टूबर को वायु सेना के विमान ने सीमावर्ती क्षेत्र का निरीक्षण किया. मंगलवार सुबह 11 बजे वायु सेना के विमान ने फिर हवाई पट्टी के ऊपर से होते हुए सीमावर्ती क्षेत्र का निरीक्षण किया. हालांकि, विमान ने हवाई पट्टी पर लैं¨डग नहीं की.

चीन सीमा से सटी हैं 9 चौकियां

सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण उत्तरकाशी जिले में नेलांग से लगी भारत-चीन सीमा पर आईटीबीपी की नौ चौकियां हैं. हालांकि, चीन ने इस क्षेत्र में कभी घुसपैठ की कोशिश नहीं की. बावजूद इसके सेना व वायु सेना सीमा की सुरक्षा को लेकर मुस्तैद है. धरासू थाना निरीक्षक र¨वद्र यादव ने बताया कि वायु सेना की ओर से चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर सुरक्षा के लिए पुलिस फोर्स मांगी गई थी, जो उपलब्ध करा दी गई है. बताया जा रहा कि वायु सेना व सेना का यह संयुक्त युद्धाभ्यास 15 अक्टूबर तक चलेगा.