- मामला मोतिया में पर्यावरणीय सुनवाई के दौरान पुलिस पार्टी पर पथराव का

- मुझे साजिश के तहत फंसाया जा रहा, घटना से कोई लेना देना नहीं : प्रदीप

----------

गोड्डा : मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मोतिया में पांच मार्च को अडाणी पावर प्लांट के लिए हुई पर्यावरणीय जनसुनवाई के दौरान पुलिस पार्टी पर पथराव, जानलेवा हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने व आपराधिक षड़यंत्र रचने के मामले में पोड़ैयाहाट विधायक प्रदीप यादव समेत दस लोगों पर कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट निर्गत किया गया है. कांड के अनुसंधानकर्ता ने न्यायालय में वारंट के लिए अर्जी दी थी. इसके बाद न्यायालय ने वारंट जारी किया है. मामले में मोतिया में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी जयप्रकाश सिंह ने 12 नामजद व 100-150 अज्ञात पर मामला दर्ज कराया था. विधायक प्रदीप यादव पर लोगों को उकसाने व अपराधिक षड्यंत्र रचने का आरोप था. जनसुनवाई पूरी होने के बाद घटना हुई थी. पथराव में डीएसपी मुख्यालय बबन सिंह समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गए थे. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागे थे. घटना के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए धर्मेंद्र कुमार राय व कैलाश मंडल को गिरफ्तार कर लिया था. बाकी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं.

इधर, विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि मुझे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है. घटना से मेरा कोई लेना देना नहीं है. अडाणी के विरोध के कारण कार्रवाई की जा रही है.

---------