कुपोषण के खात्मे के लिए स्वास्थ्य केन्द्रों में भी पहल शुरू हो गई है. गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों की सेहत में सुधार लाने के लिए उन्हें एनआरसी में एडमिट कराने का सिलसिला तेज हो गया है. हरहुआ विकास खंड के अन्तर्गत राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम ने पुआरी खुर्द के दो बच्चे जिनमें एक साल 11 माह के अमन व 9 माह की सुंदरी को दीनदयाल हॉस्पिटल के पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) में एडमिट कराया. इस टीम में नोडल मेडिकल ऑफिसर डॉ. अब्दुल जावेद, डॉ. शिवम पाण्डेय, डॉ. शैलेन्द्र कुमार, नदीम अली व रंजना कुमारी शामिल रही.