-पावर कॉरपोरेशन के चेयरमैन ने माना, हो रही बिजली की चोरी

-बिजली चोरो के खिलाफ दर्ज होगी एफआइआर

जिले के गांवों में बिजली चोरी गंभीर समस्या बनी हुई है. ऐसे लोगों को चिन्हित कर उन पर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी. इस तरह के लोगों को दिसंबर तक हर हाल में बिजली कनेक्शन भी दिया जाएगा. यह कहना हैं उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन के चेयरमैन आलोक कुमार का. गुरुवार को भिखारीपुर स्थित पूर्वाचल विद्युत वितरण निगम कार्यालय में सौभाग्य योजना की समीक्षा बैठक के बाद उन्होने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि जिन गांवों का शत-प्रतिशत विद्युतीकरण हो चुका है, उन गांव के अधिकांश लोग अब भी बिना कनेक्शन बिजली का उपभोग कर रहे हैं, जो कारपोरेशन के लिए ठीक नहीं है.

बगैर राजस्व चाहिए बिजली

उन्होने कहा कि बिजली जलाने में ग्रामीणों की रूचि तो है, लेकिन राजस्व देने में नहीं. इसलिए ऐसे लोग कनेक्शन नहीं ले रहे. इस मामले में विभाग की लापरवाही को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. ऐसे लोगों को चिह्नित कर उनके खिलाफ सख्त कदम उठाने के लिए विभागीय अधिकारियों व अभियंताओं को निर्देश दिए गए हैं. उन्हें कहा गया है कि विद्युतीकरण वाले गांव में विभाग सघन जांच अभियान चलाए. इस दौरान जिन लोगों के यहां कनेक्शन नहीं है, उनके यहां 'सौभाग्य' योजना के तहत कनेक्शन दिया जाए.