-2019 लोक सभा चुनाव की तैयारी में जुटा स्थानीय निर्वाचन कार्यालय

-चुनाव के लिए बनारस आएंगी नई सिरीज की ईवीएम

varanasi

2019 लोकसभा चुनाव को लेकर प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है. पहले पोलिंग स्टेशन और अब ईवीएम मशीन को लेकर नए प्लान तैयार किए गए है. इस बार बनारस के मतदाता नई ईवीएम के जरिए वोट देंगे. निर्वाचन आयोग ने बनारस जिले में नई सिरीज की ईवीएम मशीन से चुनाव कराने का फैसला लिया है. इसको लेकर भारत निर्वाचन आयोग की ओर से जिला निर्वाचन कार्यालय को निर्देश भी जारी किया जा चुका है. अधिकारियों की मानें तो वोटर्स के लिए नई सिरीज के ईवीएम लगाने को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है. पहले से आवंटित पुरानी सिरीज के ईवीएम को बिहार व अन्य जिलों में भेजा जा रहा है.

सभी ईवीएम से जुड़ेगा वीवीपैड

इस बार लोकसभा चुनाव में जिले के शत-प्रतिशत पोलिंग बूथों पर इस्तेमाल होने वाली ईवीएम को वेरिफियेबल पेपर ऑडिट ट्रोल (वीवीपैड) से जोड़ा जाएगा. इससे मतदाता मतदान के बाद वीवीपैड से निकलने वाली पर्ची को देख सकेंगे. आयोग की ओर से अधिकारियों को इसकी सूचना फेज दी गई है. स्थानीय निर्वाचन कार्यालय के अधिकारियों की मानें तो चुनाव के दौरान जिले की सभी पोलिंग बूथों पर लगी ईवीएम वीवीपैड से जुड़ी रहेंगी. जिससे वोटर्स अपनी पर्ची देख सकें.

बढ़ा दिये गए पोलिंग स्टेशन

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जिला निर्वाचन कार्यालय ने पोलिंग बूथों को लेकर भी तैयारियां पूरी कर ली है. पोलिंग बूथ पर मतदाताओं को ज्यादा भीड़ का सामना न करना पड़े. इसलिए पोलिंग स्टेशन की संख्या बढ़ा दी गई है. आयोग के निर्देश पर यहां इस बार 92 नए पोलिंग स्टेशन स्थापित हैं. बताया जाता है कि कुछ पोलिंग बूथों पर वोटर्स का दबाव ज्यादा होने की वजह ने नए बूथ बनाए गए हैं. जिससे मतदाताओं का वक्त जाया न हो सके.

1400 से ज्यादा पर बढ़े स्टेशन

जहां भी वोटर्स की संख्या 1400 से ज्यादा हैं, वहां पोलिंग स्टेशन बढ़ाए गए है. पहले जहां जिले भर में 2828 पोलिंग बूथ थे. वहीं अब इसकी संख्या 2920 हो गई है. अगले माह से नए वोटर्स की गिनती के साथ पुराने वोटर्स के वोटर आईडी का करेक्शन शुरू किया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस बार बने कुल 1140 पोलिंग स्टेशन के 2920 बूथों पर मतदाता वोट डालेंगे.

लोक सभा चुनाव को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है.पोलिंग स्टेशन बनाने का काम पूरा हो चुका है. फिलहाल पुराने को हटाकर नए सिरीज के ईवीएम लगाने को लेकर तैयारी हो रही है.

दयाशंकर, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी