आशा ज्योति केन्द्र पुलिस चौकी से भागी किशोरी के मामले में एसएसपी हुए सख्त

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: शाहगंज थाना क्षेत्र की आशा ज्योति केन्द्र पुलिस चौकी से फरार किशोरी के मामले में एसएसपी नितिन तिवारी ने चौकी प्रभारी उर्मिला सिंह समेत वहां तैनात दस महिला सिपाहियों को लाइनहाजिर कर दिया है. मंगलवार की देर शाम तक पुलिस फरार छात्रा का सुराग नहीं लगा सकी. अब तक की तफ्तीश में अफसरों ने पाया है कि घटना वाली रात चौकी में तैनात सभी पुलिसकर्मी कमरे में सो रहे थे. एसएसपी ने जांच सीओ लाइन को सौंपी है.

अब तक नहीं लगा सके सुराग

महिलाओं से जुड़े केस को निस्तारित करने के लिए आशा ज्योति केन्द्र पुलिस चौकी की स्थापना शाहगंज थाने के अंदर ही की गई है. फाफामऊ क्षेत्र में दो अगस्त की सुबह पुलिस को एक किशोरी मिली थी. मूलरूप से फतेहपुर जिले के खागा की इस किशोरी को पुलिस ने आशा ज्योति केन्द्र भेज दिया. रविवार की मध्य रात्रि चौकी में तैनात सभी महिला पुलिसकर्मी किशोरी को अकेले छोड़ कमरे में सोने चली गई. किशोरी चौकी से फरार हो गई. चौकी प्रभारी उर्मिला सिंह ने शाहगंज थाने में किशोरी के भागने की रिपोर्ट दर्ज कराई है. एसएसपी के मुताबिक मामले में केंद्र चौकी में तैनात पुलिसकर्मियों की लापरवाही सामने आई है. इसे देखते हुए चौकी प्रभारी उर्मिला सिंह, सिपाही ममता देवी, पम्मी सिंह, रेखा, वैशाली, वंदना त्रिपाठी और प्रभा बाजपेई समेत कुल दस महिला सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

पड़ताल में आशा ज्योति केंद्र चौकी में तैनात महिला पुलिसकर्मियों की लापरवाही सामने आई है. चौकी प्रभारी समेत वहां तैनात सभी महिला सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

नितिन तिवारी, एसएसपी