अशोभा चक्रवात ने रोका मानसून
भारतीय मौसम विभाग ने अरब सागर से ओमान की ओर बढ़ते चक्रवात 'अशोभा' से भारतीय मानसून के प्रभावित होने के संकेत दिए हैं। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि अशोभा चक्रवात ने फिलहाल भारतीय मानसून की ग्रोथ को रोक दिया है। लेकिन अगले 48 घंटों में चक्रवात के कमजोर होने की संभावना है। ऐसा होने पर मानसूनी हवाएं फिर से मजबूत होने की उम्‍मीद है। जहां तक जून में होने वाली बारि‍श का प्रश्‍न है तो यह तय है कि इस चक्रवात की वजह से जून माह में अपेक्षा से कम बारि‍श होगी। देश के कई हिस्‍सों में इस चक्रवात की वजह से जून माह की बारिश में कमी होने की संभावना है।

थोड़ा रुककर आएगा मानसून

मौसम विज्ञानियों ने बताया कि 8 जून को मानसून ने सेंट्रल अरेबियन सी के कुछ क्षेत्रों में प्रगति की है। इनमें गोवा, दक्षि‍णी कोंकण, कर्नाटक के कुछ हिस्‍से शामिल हैं। लेकिन 9 जून को मानसून में किसी प्रकार की प्रगति नहीं दिखाई पड़ी। इसके बाद 10 जून को एक बार फिर मानसून ने साउथ कर्नाटक के भीतरी क्षेत्रों, तमिलनाडु, दक्षि‍ण-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी और रयालसीमा में बद़त दर्ज की। मौसम विभाग के डिप्‍टी डायरेक्‍टर जनरल 'मेधा खोले' ने कहा है कि महाराष्‍ट्र में मानसून दो से तीन दिनों बाद फिर से मजबूत होना शुरु करेगा।

Hindi News from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk