कानपुर। इंडोनेशिया के जकार्ता में आयोजित 18वें एशियन गेम्स में जापान की महिला खिलाड़ियों का भी जबरदस्त प्रदर्शन देखा गया है। इस बार एशियन गेम्स में जापान ने अब तक 194 मेडल अपने नाम किये हैं। इसी तरह जापान की रिकाको इकी ने एक एशियन गेम्स में छह गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली तैराक बन गई हैं। इकी ने एशियन गेम्स में महिलाओं की 50 मीटर फ्रीस्टाइल स्पर्धा में गोल्ड जीता है। हालांकि इससे पहले भी खिलाड़ियों ने एक एशियन गेम्स में छह से ज्यादा गोल्ड जीते हैं लेकिन तैराकी में ऐसा बार है जब किसी खिलाड़ी ने छह गोल्ड मेडल अपने नाम किए हैं।

इन खेलों में मिला गोल्ड
बता दें कि एक एशियन गेम्स में सबसे ज्यादा पदक का रिकॉर्ड दक्षिण कोरिया की निशानेबाज सो गिन-मैन के नाम है। उन्होंने 1982 दिल्ली एशियन गेम्स में सात गोल्ड और एक सिल्वर मेडल हासिल किया था लेकिन इकी ने जकार्ता में दो रिले सिल्वर और जीतकर उनके आठ पदक के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। बता दें कि इकी को फ्री स्टाइल स्प्रींट, 100 मीटर फ्रीस्टाइल, 50 मीटर व 100मीटर बटरफ्लाई, चार गुणा 100 मीटर फ्रीस्टाइल और मेडले रिले में गोल्ड मिला है।

100 मीटर बटरफ्लाई में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का सपना

जापानी तैराक रिकाको इकी की उम्र अभी सिर्फ 18 साल है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब ये सिर्फ तीन साल की थीं तभी से इन्होंने खेलना-कूदना शुरू कर दिया था। अब तक इन्हें कई मेडल मिल चुके हैं। 100 मीटर बटरफ्लाई में वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम करना रिकाको का सपना है।

एशियन गेम्स में पाकिस्तान और चीन से ऊपर लहराया तिरंगा

कोहली से ज्यादा हैंडसम और स्टाईलिश हैं एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने वाले नीरज चोपड़ा