कानपुर। इंडोनेशिया में चल रहे 18वें एशियन गेम्स के 10वें दिन भारत के खाते में एक और गोल्ड मेडल आ गया। 800 मीटर की रेस में भारतीय एथलीट मंजीत सिंह ने भरत को स्वर्ण पदक दिलाया। मंजीत ने यह रेस एक मिनट 46.15 सेकेंड में पूरी की। यही नहीं दूसरे नंबर पर भी भारत के खिलाड़ी जिनसन जॉनसन रहे जिन्होंने एक मिनट 46.35 सेकेंड में यह रेस खत्म की। इस तरह गोल्ड और सिल्वर दोनों मेडल भारत की झोली में आए। आपको बता दें कि 1962 के बाद पहली बार हुआ है कि भारत ने एथलेटिक्स की इस स्पर्धा में स्वर्ण और रजत दोनों अपने नाम किए।
एशियन गेम्स में मंजीत सिंह ने भारत को दिलाया 9वां गोल्ड,कुल पदकों की संख्या हुई 47
भारत के पास कुल 47 पदक

एशियन गेम्स में अब भारत के खाते में कुल 47 पदक आ गए। जिसमें 9 गोल्ड, 17 सिल्वर और 21 ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं। यही नहीं भारत फिलहाल 8वें नंबर पर बना हुआ है। एशियाड 2018 में अभी तक सबसे ज्यादा पदक चीन के नाम है। चीन के पास कुल 201 मेडल हैं जिसमें 93 गोल्ड, 63 सिल्वर और 45 ब्रॉन्ज मेडल शामिल हैं।

गोल्ड से चूकीं पीवी सिंधू

एशियन गेम्स 2018 के 10वें दिन भारत के खाते में एक सिल्वर मेडल भी आया था। महिला बैडमिंटन फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला शटलर पीवी सिंधू को रजत पदक मिला। सिंधू अगर यह मैच जीत जातीं तो उन्हें गोल्ड मेडल मिलता। मगर फाइनल भिड़ंत में सिंधू को चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग ने कड़ी टक्कर दी और सिंधू स्वर्ण पदक से चूक गईं। आपको बता दें कि यिंग वही खिलाड़ी हैं जिन्होंने सेमीफाइनल में भारत की सायना नेहवाल को हराकर फाइनल में इंट्री मारी थी और अब उन्होंने भारत की ही सिंधू को हराकर स्वर्ण पदक जीत लिया।

एशियन गेम्स में पाकिस्तान और चीन से ऊपर लहराया तिरंगा