कोलकाता/चेन्नई (पीटीआई)। इंडोनेशिया के जकार्ता में हाल ही में संपन्न हुए 18वें एशियन गेम्स में कोलकाता की रहने वाली स्वप्ना बर्मन ने गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। स्वप्ना ने महिलाओं की हेप्टाथलन प्रतियोगिता में यह पदक जीता। वह हेप्टाथलन में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट भी हैं। स्वप्ना की इस उपलब्धि पर उनका घर-परिवार ही नहीं पूरा देश भी खुश है। यही वजह है कि स्वप्ना के घर लौटते ही कई मंत्री और नेता उनसे मिलने घर पहुंच गए। जलपाई गुड़ी के घोसपारा गांव में रहने वाली स्वप्ना से मिलने शनिवार को केंद्रीय मंत्री सुरेंद्रजीत सिंह आहलूवालिया आए। उन्होंने स्वप्ना को 30 लाख रुपये नकद पुरस्कार और रेलवे में नौकरी का ऑफर दिया। आहलूवालिया ने यह भी बताया कि 4 सितंबर को नई दिल्ली में एशियन गेम्स के सभी विजेताओं को सम्मानित किया जाएगा और अगले दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी खिलाड़ियों से मिलेंगे।
एशियन गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट स्वप्ना बर्मन के टिन-शेड वाले घर में लगी वीआईपी की कतार
टिनशेड वाले घर में पहुंचे मंत्री जी

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी स्वप्ना बर्मन को 10 लाख रुपये और सरकारी नौकरी देने का वादा किया। नॉर्थ बंगाल के एक आदिवासी इलाके से आने वाली स्वप्ना का परिवार काफी गरीब है। उनकी मां दूसरों के घर में काम करती हैं वहीं पिता घर खर्च के लिए रिक्शा चलाते हैं, हालांकि वह पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे हैं ऐसे में घर की आर्थिक स्थिति भी अच्छी नहीं है। टिन शेड वाले दो कमरे के घर में रहने वाली स्वप्ना ने इस परिस्थिति के बावजूद एशियाड में गोल्ड जीतने का सपना देखा और वो पूरा भी हुआ। स्वप्ना के गोल्ड जीतकर वापस घर आते ही वेस्ट बंगाल के पर्यटक मंत्री गौतम देव भी उनसे मिलने घर आए थे। तब मंत्री जी ने कहा था कि वह ममता बनर्जी के निर्देश पर यहां आए हैं। मुख्यमंत्री स्वप्ना की मां से बात करना चाहती थी, खैर यह मुलाकात भी हुई और सरकार स्वप्ना के परिवार की हर संभव मदद करने को तैयार है।
एशियन गेम्स में गोल्ड मेडलिस्ट स्वप्ना बर्मन के टिन-शेड वाले घर में लगी वीआईपी की कतार
अब तैयार होंगे स्पेशल जूते

पैर में 12 उंगलियां लेकर जन्मीं स्वप्ना का स्पोर्ट्स में करियर बनाना आसान नहीं था, क्योंकि जूते उसके पैर में फिट नहीं आते जिसके चलते काफी परेशानी से जूझना पड़ता है। खैर इस समस्या से स्वप्ना को बहुत जल्द निजात मिलने वाली है। चेन्नई बेस्ड इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (आईसीएफ) ने मशहूर फुटवियर कंपनी नाइक के साथ स्वप्ना के लिए स्पेशल जूते डिजाइन करने की बात कही है। आईसीएफ के जनरल मैनेजर एस मानी ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा, कि स्वप्ना के लिए कस्टमाइज्ड जूते की तैयारी जोरों पर है और बहुत जल्द उसके पास ये पहुंच जाएंगे।

रिक्शाचलाने वाले की बेटी स्वप्ना बर्मन एशियन गेम्स में जीत लाई गोल्ड