सालों से खाली पड़ी जगह पर हुआ काम शुरू

तीमारदारों को मिलेगी बैठने और आराम करने की जगह

Meerut. देश में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद कई जगह उनके स्मारक बनाने की घोषणा की गई. कुछ इसी तरह जिला अस्पताल में भी बेकार पड़ी एक जगह पर पार्क को डेवलप कर उसका नाम अटल बिहारी वाजपेयी स्मारक पार्क रखने की योजना है. मेडिसिन काउंटर के पास बन रहे पार्क के सौंदर्यीकरण का काम शुरू कर दिया गया है. यहां टीन शेड व पत्थर की बेंच तैयार की गई हैं ताकि बाहर से आने वाले तीमारदार यहां बैठकर आराम कर सके.

लगेंगे औषधीय पौधे

कायाकल्प योजना के तहत इस पार्क को विकसित किया जा रहा है. पार्क में कुछ ऐसे औषधीय पौधों को लगाया जाएगा, जिसकी सुगंध से मरीजों को जल्द स्वस्थ होने में मदद मिलेगी. इसके अलावा इसमें तुलसी, ग्वारपाटा, ग्लोय, सतावरी सहित कई औषधीय पौधे भी रौंपे जा रहे हैं. अस्पताल प्रशासन का कहना है कि इससे न सिर्फ अस्पताल का माहौल बदलेगा बल्कि तीमारदारों को भी बैठने के लिए उचित जगह मिल सकेगी.

तीमारदारों के िलए व्यवस्था

जिला अस्पताल में रोजाना करीब 1500 मरीज आते हैं, जिनके साथ उनके परिजन भी आते हैं. यहां तीमारदारों के लिए अभी सिर्फ एक ही पार्क की व्यवस्था है और उसमें टीन शेड न होने की वजह से लोगों को बारिश और धूप में परेशानी होती है. परंतु नए पार्क के बन जाने के बाद तीमारदार यहां आसानी से बैठ सकेंगे. इसके अलावा यहां पीने के पानी की व्यवस्था भी कराई जाएगी.

कायाकल्प योजना के तहत पार्क का सौंदर्यीकरण का काम शुरू हो चुका है. पार्क का नाम अटल बिहारी वाजपेयी स्मारक पार्क रखने की योजना तैयार की जा रही है.

डॉ. पीके बंसल, एसआईसी, जिला अस्पताल