सर्वदलीय सभा के बाद वाहनों के काफिले के साथ संगम पर पहुंचा अस्थि कलश

भाजपा नेताओं ने साझा किए अटल से जुड़े संस्मरण

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: हर दिल अजीज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई का अस्थि कलश शनिवार को शहर की सड़कों से भारी हुजूम के बीच निकला. जिसका इंतजार कर रहे लोगों ने पुष्प अर्पित कर उनको नमन किया. इसके पहले सर्किट हाउस पर सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया. जिसमें विभिन्न राजनैतिक दल और संगठन के लोग उपस्थित रहे.

फूलों से सजे वाहन पर निकला कलश

सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा के बाद फूलों से सजे वाहन में अस्थि कलश को रखा गया. इसके बाद वाहन एजी आफिस, लोक सेवा आयोग, ¨हदू छात्रावास चौराहा, आजाद पार्क, इंडियन चौराहा, दीनदयाल उपाध्याय मूर्ति चौराहा, गीता निकेतन होते हुए संगम पर पहुंचा. अस्थि कलश वाहन पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के अलावा कैबिनेट मंत्री डॉ. रीता बहुगुणा जोशी व नंदगोपाल गुप्त 'नंदी', राज्य मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह, सांसद श्यामा चरण गुप्त व विनोद सोनकर, मेयर अभिलाषा गुप्ता, भाजपा के संगठन मंत्री अमरपाल मौर्य व महानगर अध्यक्ष अवधेश गुप्ता आदि सवार थे. भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ प्रदेश संयोजक डॉ. एलएस ओझा, डॉ. बीबी अग्रवाल व डॉ. रंजन बाजपेई ने अटल जी के कलश पर पुष्प अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की.

पग-पग चढ़ाए श्रद्धा के फूल

तय मार्ग पर जगह-जगह घंटों से इंतजार कर रहे लोगों ने अस्थि कलश पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. बांध पहुंचने पर सभी वाहन से उतरकर नंगे पांव पदयात्रा के रूप में संगम तक गए. अस्थि कलश लेकर चल रहे डिप्टी सीएम के साथ मौजूद लोगों ने अटलजी अमर रहें का गगनभेदी नारा लगाया. वीआइपी घाट पहुंचने पर गार्ड ऑफ ऑनर देने के बाद श्रद्धांजलि सभा हुई, जिसमें मंत्रियों के साथ पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने भी अटल से जुड़े संस्मरण साझा किए. फिर स्टीमर में रखकर अस्थि कलश संगम ले जाया गया. जहां मंत्रोच्चार के बाद अस्थि को संगम में प्रवाहित किया गया.

शब्दों से बखानी अटल की महिमा

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने अपने संस्मरण साझा किए. उन्होंने कहा कि अटलजी ने संयुक्त राष्ट्रसंघ में ¨हदी में भाषण देकर नए आयाम स्थापित किए. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने कहा कि वह अजर हैं, अमर हैं और अटल हैं. अटल की कविता 'भारत जमीन का टुकड़ा नहीं..' सुनाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि राष्ट्रहित में अटलजी ने सभी को एकसूत्र में पिरोया. वह मेरे पिता के मित्र थे. वह मेरे पिता के साथ हमेशा राष्ट्रहित की चर्चा करते थे.

विलेन बन गई रिमझिम बारिश

भाजपा नेताओं ने अस्थि कलश यात्रा को भव्य और विस्तृत रूप देने की भरपूर तैयारी की थी लेकिन सुबह से शुरू हुई रिमझिम बारिश विलेन बन गई. इसकी वजह से जितनी भीड़ मार्ग पर होनी चाहिए थी उतनी नजर नही आई. यात्रा के साथ चल रहे लोग बूंदों से बचने की कोशिश कर रहे थे. कई नेता ऐसे थे जो अपने वाहन से सीधे संगम पर पहुंच गए. संगम पर भी बारिश ने लोगों को आड़ लेने पर मजबूर कर दिया.

श्रद्धांजलि अर्पित करने को उमड़ी भीड़

अस्थि कलश को शनिवार को भाजपा चौक मंडल अध्यक्ष राजेश केसरवानी ने कार्यकर्ताओं के साथ श्रद्धांजलि दी. मौके पर राजेश केसरवानी, आलोक शुक्ला, जितेंद्र सिंह, लता उपाध्याय, अनुपम गुप्ता आदि उपस्थित रहे. नमामि गंगे की ओर से हिंदू हास्टल चौराहे पर गंगा विचार मंच के सह संयोजक काशी प्रांत राजेश शर्मा, रितेश मिश्र, लाला जयसवाल, मधुसूदन, अशोक सिंह आदि ने पुष्प अर्पित किए गए. इसके पहले बहादुरगंज शिवचरन लाल रोड व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने व्यापारी नेता अमर वैश्य मुन्ना भइया, राजेश गुप्ता, राजेश जायसवाल, शिवबाबू गुप्ता, बिंदू जायसवाल आदि ने सर्किट में अस्थि कलश को नमन किया.