-लोकसभा चुनाव के दौरान डॉ. जोशी के समर्थन में ही चार बार अलग-अलग स्थानों पर जनसभा को किया था संबोधित

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: भारत रत्‍‌न से सम्मानित देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटलजी ने इलाहाबाद में अलग-अलग समय पर हुए लोकसभा चुनाव के दौरान चार बड़ी जनसभा की थी. खास बात रही कि वर्ष 1996 से लेकर वर्ष 2004 के बीच चारों सभा उन्होंने डॉ. मुरली मनोहर जोशी के समर्थन में की थी. वर्ष 1996 में पहली जनसभा पीडी टंडन पार्क, वर्ष 1998 में दूसरी जनसभा और वर्ष 1999 में तीसरी जनसभा केपी इंटर कालेज के मैदान में की थी. जबकि वर्ष 2004 में अंतिम जनसभा सेवा समिति विद्या मंदिर इंटर कालेज के परिसर में की थी. इसके बाद वे यहां कभी नहीं आएं.

'मुरली की स्थिति कैसी है'

लोकसभा चुनाव के दौरान अंतिम बार इलाहाबाद में हुई जनसभा के दौरान भाजपा के जिलाध्यक्ष नरेन्द्र देव पांडेय थे. यह सभा सेवा समिति विद्या मंदिर इंटर कालेज के मैदान में हुई थी. सभा में पहुंचने से पहले अटल जी के साथ गाड़ी में जिलाध्यक्ष श्री पांडेय बैठे हुए थे रास्ते में उन्होंने पूछा कि मुरली की स्थिति कैसी है. श्री पांडेय ने बताया कि उनका व्यक्तित्व इतना विराट था कि बगल में बैठने पर जब उन्होंने पूछा तो मैं सन्न रह गया. तब अटल जी ने यही कहा था कि इनके जैसे विद्वान पुरुष की देशहित में बहुत जरुरत है. इनको आप सब मिलकर जिताइए.

वीपी सिंह के समर्थन में की थी सभा

वर्ष 1988 में अमिताभ बच्चन ने जब लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था तो उसके बाद इलाहाबाद संसदीय सीट के लिए उपचुनाव हुआ था. इसमें विपक्ष की ओर से जनमोर्चा के प्रत्याशी के तौर पर विश्वनाथ प्रताप सिंह ने चुनाव लड़ा था. श्री पांडेय ने बताया कि अटल जी ने वीपी सिंह के समर्थन में पीडी टंडन पार्क में जनसभा को संबोधित किया था.

ट्रेन हादसों पर झलका था दर्द

वर्ष 1986 में भाजपा युवा मोर्चा के शहर अध्यक्ष प्रभा शंकर पांडेय थे और उन्होंने पीडी टंडन पार्क में युवा मोर्चा का कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किया था. बारह जनवरी को सम्मेलन के समापन सत्र में अटल जी को आमंत्रित किया गया था. श्री पांडेय ने बताया कि युवाओं की समस्याओं पर भाषण देते हुए उनका दर्द ट्रेन हादसों को लेकर झलका था. उस दौरान देश में तीन बड़े ट्रेन हादसे नदी पर बनाए गए पुलों पर हुए थे. उन्होंने कांग्रेस सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि अब तो ट्रेनें नदी में छलांग लगा रही हैं.