- मालदा से आई महिला से किए बरामद, पति को भी किया गिरफ्तार

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

एटीएस की लखनऊ इकाई द्वारा गाजीपुर जिले के गहमर रेलवे स्टेशन के बाहर से एक महिला को गिरफ्तार किया गया जिसके पास से तीन लाख रुपये मूल्य की भारतीय जाली मुद्रा बरामद हुई. एटीएस पिछले कई दिनों से इस गिरोह की तलाश कर रही थी. अनीता नामक महिला को गुरुवार को पकड़ने के बाद उसके पति घनश्याम गुप्ता को भी पूछताछ के बाद साक्ष्यों के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया. घनश्याम के खिलाफ जाली मुद्रा का कारोबार करने के 12 मुकदमे पहले से दर्ज हैं. इस संबंध में एटीएस ने मुकदमा भी दर्ज किया है.

पति करता था कारोबार

एटीएस की पूछताछ में अनीता ने बताया कि उसका पति भारतीय जाली मुद्रा का व्यापार करता है कई बार जेल भी जा चुका है. वह अपने पति के कहने पर ही रुपया लेने पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में गयी थी. वहां पर मैं 1.20 लाख रुपये के बदले में उसे तीन लाख रुपये की भारतीय जाली मुद्रा दी गयी. उसने बताया कि उसके अन्य कई रिश्तेदार भी इसी अपराध में लिप्त है जो इससे पूर्व भी कई बार जेल जा चुके हैं. अनीता से पूछताछ में जाली मुद्रा का कारोबार करने वाले कई अन्य अपराधियों के नाम का पता चला है. एटीएस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि जाली मुद्रा को वे किस तरह खपाते थे. दोनों आरोपितों को गिरफ्तार करने वाली एटीएस की लखनऊ टीम में इंस्पेक्टर दिनेश्वर पांडे, एसआई सुरेश गिरी, हेड कांस्टेबल शिवपाल सिंह, राज बब्बर सिंह, कांस्टेबल कपूर चंद पटेल, शरद मिश्रा, अभिषेक, प्रशांत वर्मा व महिला कांस्टेबल प्रियंका दुबे शामिल थे.