-रांची में 34 नई शराब दुकान खुलेंगी, अप्लीकेशन जमा करने की अंतिम डेट 31 मई

ह्मड्डठ्ठष्द्धद्ब@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

RANCHI (7 रूड्ड4)

रांची में वैसे जगह जहां अभी तक शराब दुकानें नहीं खुली हैं वहां भी जल्द ही दुकानें शुरू होने वाली हैं। विभाग द्वारा रांची में 34 नई जगहों पर शराब दुकान खोलने की तैयारी की जा रही है। मार्च महीने में उत्पाद विभाग द्वारा शराब दुकानों की बंदोबस्ती लॉटरी के माध्यम से की गई थी। इनमें से कई ऐसे जगह थे जहां लोगों ने शराब दुकान के लिए लॉटरी में दिलचस्पी नहीं ली। इस कारण इन दुकानों की लॉटरी नहीं हो पायी। अब उत्पाद विभाग ने फिर से रांची में इन 34 नई जगहों पर शराब दुकान के लॉटरी कर बंदोबस्ती करने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। रांची सहित पूरे राज्य में 258 दुकानों के लिए लॉटरी की जाएगी जिसमें 65 देशी, 95 विदेशी, 98 कम्पोजिट शराब की दुकानें हैं।

जून से खुल जाएंगी दुकानें

इन जितने भी नए जगहों पर लॉटरी के माध्यम से शराब दुकानों की बंदोबस्ती की जाएगी उनका संचालन जून महीने से शुरू कर दिया जाएगा। उत्पाद विभाग द्वारा जो आदेश निकाला गया है उसके तहत 31 मई तक जो भी लोग इन दुकानों को लेने में इंटरेस्टेड हैं वह लॉटरी का जो प्रोसेस है उसके तहत पैसा और डॉक्यूमेंट जमा कर दें। 31 मई तक एप्लीकेशन जमा करने का अंतिम डेट है, उसके बाद अगले सप्ताह में लॉटरी निकाल दी जाएगी और लोगों को दुकान आवंटित कर दिया जाएगा।

अधिकतर जगह चल रही दुकानें

5 मार्च को पूरे राज्य में एक साथ लॉटरी के माध्यम से शराब दुकानों की बंदोबस्ती की गई थी। उत्पाद विभाग द्वारा पहली बार लॉटरी के माध्यम से शराब दुकानों की बंदोबस्ती की गई है, जिन दुकानों के लिए लॉटरी निकल गई है उनको दुकान आवंटित कर दिया गया है, और उनका दुकान शुरू भी हो चुका है। अब वैसे जगह जहां शराब दुकान नहीं खुली है वहां भी अगले महीने से दुकानें शुरू हो जाएगी।

1350 दुकानें खुल चुकी हैं

उत्पाद विभाग की ओर से मार्च महीने में देशी, विदेशी व कंपोजिट शराब की दुकानों के 799 समूह बनाए गए थे। एक समूह में अधिकतम दुकानों की संख्या तीन थी। राज्य में 565 देशी, 718 विदेशी व 381 कंपोजिट शराब दुकानों को 799 दुकानों के समूह में बांटे गए थे। इसमें 686 समूहों के आवेदन प्राप्त हुए थे। जो समूह के कुल संख्या के 86 प्रतिशत के करीब हैं, दुकानों के 686 समूह में 1720 आवेदकों के 5762 आवेदन प्राप्त हुए। पहले फेज में 1350 दुकानों को लॉटरी निकल चुकी है और दुकान शुरू भी हो चुकी हैं। ससस ा