खालिदा के खिलाफ वारंट जारी
अदालत के विशेष न्यायाधीश अबू अहमद जोमादार ने गिरफ्तारी वारंट जारी किया. यह अदालत जिया व उनके 'भगोड़े' बड़े बेटे तारिक रहमान सहित आठ के खिलाफ दो ट्रस्टों के भ्रष्टाचार के मामले की सुनवाई कर रही है. अदालत के अधिकारियों ने बताया कि यह आदेश इसलिए दिया गया कि पूर्व प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार के दोनों मामलों के एक साथ मुकदमे की 50 से अधिक सुनवाई के दौरान पेश नहीं हुई और हर बार उनके वकीलों ने अनुपस्थिति की अलग-अलग वजहें बताई.

अशांति के माहौल में अरेस्‍ट वारंट

यह आदेश ऐसे समय आया है, जब देश में अशांति का माहौल है. जिया की बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) ने गत छह जनवरी से राष्ट्रव्यापी चक्काजाम आहूत कर रखा है. इसके चलते हो रही हिंसा में अब तक करीब 112 जानें जा चुकी हैं. इसके साथ ही बांग्लादेश में एक जानेमाने विपक्षी नेता महमूदुर रहमान मन्ना को गिरफ्तार किया गया है. उन पर सैन्य विद्रोह भड़काने के प्रयास में लिप्त रहने का आरोप है. उनकी गिरफ्तारी बीएनपी के वरिष्ठ नेता सदेक हुसैन खोका व एक पूर्व सैन्य अधिकारी की टेलीफोन पर हुई बातचीत सार्वजनिक होने के बाद हुई है.

Hindi News from World News Desk

National News inextlive from India News Desk