-एक हजार लाभार्थियों ने पैसा लेने के बावजूद अभी तक नहीं बनवाया शौचालय

BAREILLY: अफसरों की हीलाहवाली के चलते स्वच्छ भारत मिशन बरेली में सफल होता नजर नहीं आ रहा है। शौचालय का पैसा लेने के बावजूद एक हजार लोगों ने अभी तक शौचालय निर्माण नहीं कराया है। जिसके चलते बरेली तीसरी बार भी ओडीएफ घोषित नहीं किया जा सका। अब जिम्मेदारों ने बरेली को ओडीएफ घोषित करने के लिए 25 दिसम्बर की तारीख दी है।

दो महीने में तीन तारीख

पहली बार बरेली को सितम्बर में ओडीएफ घोषित होना था लेकिन शौचालय निर्माण पूरा न होने के कारण इसे टाल दिया गया। उसके बाद प्रभारी मंत्री बृजेश पाठक के निर्देश पर इसे 19 अक्टूबर को ओडीएफ घोषित करने की बात कही गई लेकिन शौचालय निर्माण पूरा न होने के चलते ऐसा नहीं हो सका। इसके बाद अधिकारियों ने 30 अक्टूबर को ओडीएफ घोषित करने की बात हुई थी। ट्यूजडे को वह दिन बीत गया और बरेली ओडीएफ नहीं हो पाया।

55 हजार लाभार्थियों को मिलेगा शौचालय

2012 के सर्वे में जिनका नाम नहीं था और वह शौचालय के हकदार हैं तो अब जिला पंचायत विभाग की ओर से उनका सर्वे कराकर उन्हें शौचालय दिया जाएगा। इसके लिए 20 करोड़ का बजट स्वीकृत हो गया है। जिला पंचायत विभाग के अनुसार अभी भी बरेली में 55 हजार लोग ऐसे हैं जिन्हें शौचालय की आवश्यकता है। नौ नवम्बर तक इनकी सूची सभी ब्लाकों से उपलब्ध कराने को कहा गया है।

लगभग एक हजार लाभार्थियों ने पैसा लेने के बावजूद शौचालय नहीं बनवाया है जिसके चलते बरेली ओडीएफ नहीं हो पा रहा है। अब 25दिसम्बर को इसकी घोषणा की जाएगी।

सत्येंद्र कुमार, सीडीओ