-आबकारी टीम ने कैंट थाना के कई गांवों में दी दबिश

-150 लीटर कच्ची शराब व 8 हजार किलो लहन पकड़ा

bareilly@inext.co.in

BAREILLY: शासन की सख्ती पर आबकारी और पुलिस टीम को शराब तस्करी के सभी ठिकाने पता चल गए हैं. आबकारी विभाग की टीम ने भी ताबड़तोड़ दबिश देनी शुरू कर दी है. मंडे को भी आबाकारी की टीम ने कैंट थाना एरिया के कई गांवों में दबिश दी. यहां से खेतों में बनायी जा रही 150 लीटर कच्ची शराब बरामद की और 8 हजार लीटर लहन भी नष्ट किया लेकिन एक बार फिर से फौज को चकमा देकर तस्कर भागने में कामयाब हो गए. संडे को भी 25 लोगों की फौज के सामने से जगतपुर में 6 तस्कर फरार हो गए थे.

इन जगहों पर दी दबिश
आबकारी विभाग के इंस्पेक्टर विनय कुमार निमेष की मौजूदगी में कैंट के क्यारा, बारी नगला, दशहरी नाला और मिर्जापुर के जंगलों में दबिश दी. यह वह गांव हैं, जहां हमेशा ही कच्ची शराब बनती है. किस-किस जगह शराब बनती है, इसकी खबर पुलिस और आबकारी की टीम को होती है लेकिन कोई दबिश नहीं डालता है. अब जब मौतें हुई तो शराब पकड़ने की याद सभी को आ गई है.

पुलिस ने पकड़ी 167 लीटर कच्ची शराब
यूपी-उत्तराखंड में जहरीली शराब पीने से 100 से अधिक मौतों के बाद 8 फरवरी से 23 फरवरी तक अवैध शराब की धरपकड़ का अभियान चल रहा है, लेकिन अभियान में धीरे-धीरे खानापूर्ति शुरू हो गई है. तीसरे दिन संडे रात सिर्फ 167 लीटर कच्ची शराब पकड़ी गई. पुलिस ने 7 मामलों में 6 शराब तस्करों को भी गिरफ्तार किया है. इससे पहले सैटरडे रात में 308 लीटर कच्ची शराब के साथ 18 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया. पहले दिन अभियान में फ्राइडे रात 282 लीटर कच्ची शराब पकड़ी. दूसरी ओर देखें तो जितनी मात्रा में कच्ची शराब पकड़ी जा रही है उससे साफ है कि शराब तस्करी का धंधा जोरों से जिले में चल रहा था और आबकारी विभाग और पुलिस खामोश बैठी हुई थीं.