JAMSHEDPUR: ग्रेजुएट कॉलेज में पीजी में नामांकन लिस्ट नहीं दिखाने व यूजी में नामांकन नहीं होने को लेकर एआइडीएसओ के नेतृत्व में सैकड़ों छात्राओं ने शनिवार को हंगामा किया. कालेज परिसर में दो बजे से शाम के पांच बजे तक छात्राओं ने हंगामा किया. छात्राओं ने प्राचार्या डॉ. सत्यरूपा श्रीवास्तव को उनकी कार में ही करीब पौन घंटे तक घेरे रखा. हंगामा बढ़ने पर कॉलेज में साकची पुलिस भी पहुंची थी.

भड़क गईं छात्राएं

गौरतलब है कि छात्राओं का कहना था कि 45 प्रतिशत मा‌र्क्स वालों का पीजी में नामांकन हो गया है, लेकिन 50 प्रतिशत से अधिक छात्राओं का नामांकन पीजी में नहीं हो पाया. जबकि प्राचार्या डॉ. सत्यरूपा श्रीवास्तव का कहना था कि यूजी में अब एडमिशन नहीं हो सकता साथ ही पीजी का मेरिट लिस्ट एडमिशन होने के बाद दिखाया जायेगा. इसी बात को लेकर छात्राएं भड़क गयीं. सूचना पर पहुंचे साकची थाना प्रभारी ने प्राचार्या को लिस्ट दिखाने और छात्राओं का एडमिशन लेने को कहा गया. हंगामा कर रहीं छात्राओं को समझा-बुझाकर प्राचार्य कक्ष से पुलिस ने बाहर निकाला.

पुलिस के बाहर निकलते ही प्राचार्या ने छात्राओं को बिना कुछ बताए कार में बैठकर कॉलेज से जाने लगी. जिसे एआइडीएसओ के कार्यकर्ताओं और छात्राओं ने यह देख लिया. छात्राएं दौड़कर कार के आगे आ गई और कार को गेट पर घेर कर खड़ी हो गई. लगभग 45 मिनट तक प्राचार्या की गाड़ी को घेर कर खड़ी रही. प्राचार्या की ओर से लिखित आश्वासन दिया गया कि वे सोमवार से छात्राओं का नामांकन यूजी में ले लेगी. इसके बाद छात्राएं वाहन के आगे से हट गई.

इससे पूर्व एआइडीएसओ के कार्यकर्ताओं ने एडमिशन की मांग को लेकर प्रदर्शन किया. इस मौके पर मुख्य रूप से सोनी सेनगुप्ता, खुशबु कुमारी, सगूफा परवीन, रिया रानी दत्ता, आशा मुंडा, संगीता मेलगांडी, स्नेहा, कोमल, संदीप कुमार, शुभम कुमार आदि एआइडीएसओ की कार्यकर्ता और छात्राएं उपस्थित थे.

वर्कर्स कॉलेज में हंगामा

उधर, यूजी में नामांकन से वंचित छात्रों के नामांकन को लेकर छात्र आजसू ने वर्कर्स कॉलेज में शनिवार को हंगामा किया. साथ ही प्राचार्य का घेराव भी किया. छात्र आजसू के कोल्हान अध्यक्ष हेमंत पाठक ने कहा कि इस कॉलेज में ¨हदी, इतिहास, पॉलिटिकल साइंस में छात्रों का रुझान ज्यादा है, लेकिन कॉलेज ने अपने मन से सीट निर्धारण कर लिया. इस कारण 4 दर्जन से ज्यादा छात्र नामांकन से वंचित हो गए है. कई छात्र ऐसे है जिन्होंने किसी विषय में 45 प्रतिशत अंक से कम आने पर भी भूलवश ऑनर्स में आवेदन कर दिया. उनका नामांकन कैसे होगा. 45 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले छात्रों का दूसरे ऑनर्स में कैसे नामांकन होगा यह भी स्पष्ट नहीं है. कुलपति को सौंपे गए आवेदन में मांग की गई है छात्र हित को ध्यान में रखते यूजी में एडमिशन में पारदर्शिता बरतते हुए नामांकन की तिथि को बढ़ाया जाये. इस मौके पर रंजन दास, अब्दुल कादिर, धीरेंद्र कुमार, अंकुर महतो, पूजा सोय, मुस्कान, राजेश महतो, विजय महतो, संगीत पांडेय आदि छात्र मौजूद थे.

वीमेंस कॉलेज में राष्ट्रीय पोषण सप्ताह

वीमेंस कॉलेज के गृह विज्ञान एवं क्लीनिकल न्यूट्रिशन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार को राष्ट्रीय पोषण सप्ताह का आयोजन किया गया. इसमें मुख्य अतिथि केरूप में सिविल सर्जन डॉ. महेश्वर प्रसाद उपस्थित थे. सिविल सर्जन ने छात्राओं को पौष्टिक आहार के बारे में बताया और इसे अपने खाने की रूटीन में शामिल करने की सलाह दी. साथ ही उन्होंने छात्राओं को जंक फूड से दूर रहने को कहा. वहीं कार्यक्रम को प्रभारी प्रिंसिपल डॉ. एचपी सिंह के साथ गृह विज्ञान विभाग की विभागाध्यक्ष डा. रमा सुब्रमण्यम ने भी संबोधित किया. कार्यक्रम का संचालन सीएनडी विभाग की छात्रा फरहीन नाज ने किया.