-अस्थायी कर्मचारियों का आरोप, प्राचार्य ने मंगलवार वीरेन्द्र बाल्मीकि के साथ की मारपीट

<-अस्थायी कर्मचारियों का आरोप, प्राचार्य ने मंगलवार वीरेन्द्र बाल्मीकि के साथ की मारपीट

BAREILLY

BAREILLY: बरेली कॉलेज के पांच कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद अस्थायी कर्मचारियों ने गुस्सा जाहिर किया. बोले यह कॉलेज मैनेजमेंट और प्राचार्य की तानाशाही है. कर्मचारियों ने कहा कि उन्होंने सिर्फ अपनी मांगों को लेकर प्राचार्य से बात की और वह विरोध भी जता रहे थे तो शांतिपूर्वक. लेकिन प्राचार्य ने तानाशाह रवैया अपनाया है. कर्मचारी संघ के अध्यक्ष जितेन्द्र मिश्रा ने बताया कि प्राचार्य ने वीरेन्द्र बाल्मीकि के साथ मंगलवार को मारपीट की है. वह भी उसकी एफआईआर दर्ज कराने के लिए एसएसपी से मिलेंगे.

कर्मचारी भी देंगे तहरीर

अस्थायी कर्मचारी संघ का आरोप है कि मंगलवार को प्राचार्य डॉ.अजय शर्मा कॉलेज आए थे. उस समय जितेन्द्र मिश्रा अपने साथी वीर और वीरेन्द्र के साथ बैरियर पर मौजूद थे. वहां पर प्राचार्य ने अपनी कर रोकी तो वीरेन्द्र ने अपने ऊपर दर्ज कराई एफआईआर का कारण पूछा. जिस पर प्राचार्य भड़क गए. उन्होंने वीरेन्द्र को पकड़ लिया और उसे पीट दिया. किसी तरह वीरेन्द्र को बचाया तो प्राचार्य ने उसे जाति सूचक शब्द कहे. जिसके बाद प्राचार्य वहां से कार लेकर चले गए. जितेन्द्र मिश्रा ने बताया कि वह उसके बाद एसएसपी ऑफिस तहरीर देने के लिए गए लेकिन मुलाकात नहीं हो सकी. वह अब गुरुवार को पहले दामोदर स्वरूप पार्क में सुबह दस बजे एकत्र होंगे. जिसके बाद वह वहां से बाल्मीकि समाज और बरेली कॉलेज अस्थाई कर्मचारियों के साथ एसएसपी से मिलेंगे. वहां पर वह प्राचार्य के खिलाफ तहरीर देकर एफआईआर दर्ज करने की मांग करेंगे.

प्राचार्य ने वीरेन्द्र के साथ मारपीट कर जाति सूचक शब्द कहे हैं. वह बरेली कॉलेज के प्राचार्य के खिलाफ प्रार्थना पत्र एसएसपी को देकर कार्रवाई की मांग करेंगे.

जितेन्द्र मिश्रा, अस्थायी कर्मचारी संघ बरेली कॉलेज