कुंभ मेला के पहले शाही स्नान पर्व मकर संक्रांति को लेकर मेला प्राधिकरण ने बनाई पुख्ता योजना

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: संगम की रेती पर कुंभ मेला का आगाज पहले शाही स्नान पर्व मकर संक्रांति के साथ 15 जनवरी को हो जाएगा. मेला क्षेत्र में यात्रियों की सुरक्षा और यातायात प्रबंधन को ध्यान में रखते हुए प्रयागराज मेला प्राधिकरण ने पुख्ता योजना बनाई है. योजना के मुताबिक मेला क्षेत्र में 13 जनवरी को दो पहिया और चार पहिया वाहन पास धारकों को ही इंट्री दी जाएगी और अन्य वाहनों को पार्किंग में खड़ा कराया जाएगा. 14 व 15 जनवरी को सभी प्रकार के वाहनों की इंट्री को प्रतिबंधित किया गया है.

पार्किंग की व्यवस्था

बिना पास वाले वाहनों को जीटी जवाहर के पास पीपा पुल कार्यशाला के सामने, गल्ला मंडी दारागंज, बक्शी बांध कछार पार्किंग, बड़ा बघाड़ा कछार व गंगेश्वर महादेव कछार पार्किंग स्थल में खड़ा कराया जाएगा.

झूंसी क्षेत्र से आने वाले वाहनों को झूंसी थाने के पीछे महुआ बाग पार्किंग, झूंसी नगर पंचायत के पीछे चीनी मिल और गारा पुर रोड पर खड़ा कराया जाएगा.

अरैल क्षेत्र से आने वाले वाहनों को सुविधा के अनुसार नव प्रयागम् पार्किंग और डीपीएस स्कूल के बगल में पार्क कराया जाएगा.

सरकारी वाहनों धार्मिक आयोजनों में लगे वाहनों और मेला कार्यो में लगे ठेकेदारों के वाहनों पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है.

14 व 15 जनवरी को सभी प्रकार के वाहनों को मेला क्षेत्र व समीपवर्ती पार्किंग में पार्क कराया जाएगा.

मेला में यात्रियों की सुरक्षा और यातायात प्रबंधन के लिए तैयारियां की गई है. 13 जनवरी को मेला क्षेत्र में सिर्फ पासधारक वाहनों को ही इंट्री की अनुमति है. इसके बाद मकर संक्रांति शाही स्नान को देखते हुए दो दिन जहां-जहां पार्किंग बनाई गई है. उसी स्थल पर वाहनों को खड़ा कराया जाएगा.

राजीव राय, उप मेलाधिकारी