नए सत्र की शुरुआत में ही अपर मुख्य सचिव लेंगे अधिकारियों की तैयारियों का जायजा

19 अप्रैल को सभी डीआईओएस समेत विभाग के अधिकारियों के साथ करेंगे वीडियो कांफ्रेंसिग

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: यूपी बोर्ड में नए सत्र की शुरुआत एक अप्रैल से हो गई है. नए सत्र में इस बार सरकार की तरफ से यूपी बोर्ड के स्कूलों में शैक्षिक गुणवत्ता को सुधारने पर अधिक जोर दिया जा रहा है. इसी को ध्यान में रखते हुए अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा सभी जिलों के डीआईओएस, जेडी, डीडीआर और बोर्ड के अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग करेंगे. इस दौरान वर्तमान सत्र से लागू एनसीईआरटी पैटर्न के सिलेबस को लेकर चर्चा की जाएगी.

16 तक मांगी सभी सूचनाएं

अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा की वीडियो कांफ्रेंसिंग के पहले यूपी बोर्ड के डायरेक्टर डॉ. अवध नरेश शर्मा ने सभी अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के मुद्दों से संबंधित सूचनाएं मांगी है. डायरेक्टर की ओर से जारी निर्देश में 16 अप्रैल तक अनिवार्य रूप से ई मेल के जरिए शिविर कार्यालय में सभी सूचना भेजने के निर्देश दिए गए हैं. इसमें 31 मार्च तक सेवानिवृत्त कर्मचारियों और शिक्षकों की संख्या, उनके पेंशन और जीपीएफ आदि से संबंधित भुगतान आदि की डिटेल भी मांगी गई है. इसके साथ ही पं. दीन दयाल राजकीय मॉडल इंटर कालेज में स्टाफ, फर्नीचर, पेयजल, शौचालय एवं विद्युतिकरण की स्थिति के साथ निर्माणाधीन पं. दीन दयाल उपाध्याय राजकीय मॉडल इंटर कालेज की अद्यतन स्थिति से संबंधित जानकारियां मांगी गई हैं.

वीडियो कांफ्रेंसिंग का एजेंडा

- 148 पं. दीन दयाल उपाध्याय मॉडल इंटर कालेजों के संचालन हेतु शिक्षक, शिक्षणेत्तर कर्मचारियों, फर्नीचर, स्टूडेंट्स के प्रवेश संलग्न प्रपत्र पर उपलब्ध करायी जाए

- अवशेष 18 पं. दीन दयाल उपाध्याय मॉडल स्कूलों के निर्माण की अद्यतन स्थिति

- शासन द्वारा प्रख्यापित उत्तर प्रदेश स्ववित्त पोषित स्वतंत्र विद्यालयों के फीस निर्धारण अध्यादेश के अनुपाल हेतु विचार विमर्श

- जनपदों में एनसीईआरटी पुस्तकों की उपलब्धता एवं उनकी गुणवत्ता की स्थिति

- 37 मल्टी सेक्टोरल डेवलपमेंट प्लान के अन्तर्गत स्थापित राजकीय इंटर कालेजों के संचालन हेतु विचार विमर्श

- सेवा निवृत्तिक देयकों की स्थिति