क्कन्ञ्जहृन्:प्राइमरी स्कूलों में बेंच और डेस्क के लिए प्लान है. विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान श्याम रजक के सवाल पर डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सर्व शिक्षा अभियान के तहत उपल?ध राशि के आधार पर कार्ययोजना बननी है. वैसे एक वित्तीय वर्ष में इस समस्या का समाधान संभव नहीं है. सरकार इस दिशा में कार्रवाई कर रही है. श्याम रजक ने फुलवारीशरीफ प्रखंड स्थित सकरैचा पंचायत के प्राइमरी स्कूल सलारपुर और प्राइमरी स्कूल, चुनौटी कुआं का मामला उठाया था. सदन में मौजूद शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा ने कहा कि बेंच-डेस्क की समस्या पर कार्य योजना बनाने को कहा गया है. बिहार शिक्षा परियोजना पर्षद को काम सौंपा गया है. वित्तीय वर्ष 2018-19 में यह कोशिश होगी कि समय से स्कूलों को बेंच और डेस्क उपलब्ध हो जाए.

जेनरिक दुकान के लिए नहीं मिल रहे आवेदन

विधान परिषद में मंगलवार को राजद सदस्यों ने मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह के मुद्दे पर कार्यस्थगन प्रस्ताव की स्वीकृति की मांग को लेकर वेल में आकर कुछ देर के लिए हंगामा किया. प्रश्नकाल शुरू होने पर पथ निर्माण मंत्री नन्दकिशोर यादव ने कहा कि जेनरिक दवा बिक्री के लिए आवेदन नहीं मिल रहे हैं. पथ निर्माण मंत्री ने भाजपा के रजनीश कुमार के प्रश्न के जवाब में कहा कि शहरी क्षेत्र में ढाई व ग्रामीण क्षेत्र में पांच किलोमीटर की दूरी पर जेनरिक दवा दुकान खोलना है. दुकान के लिए पर्याप्त आवेदन नहीं मिल रहे हैं. जेनरिक दवा दुकान खोलने के लिए 110 आवेदन दिए गए. उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि आर्हता पूरा कर दुकान खोलने का आवेदन करें. उप सभापति हारूण रशीद ने मंत्री से अनुरोध किया कि सरकारी अस्पतालों में जेनरिक दवा की दुकानें 24 घंटे खुली रखी जाए.

महिलाओं की पिटाई की होगी जांच

लखीसराय जिले के सूर्यगढ़ा स्थित गांव निस्ता में थानेदार द्वारा महिलाओं की वीभत्स तरीके से की गई पिटाई की जांच होगी. सरकार के स्तर पर इस कांड की जांच कर प्रतिवेदन तैयार कराया जाएगा. मंगलवार को विधानसभा में शून्य काल के दौरान राजद के प्रहलाद यादव ने इसे उठाया था. प्रहलाद यादव ने कहा कि थानेदार कई पुलिसकर्मियों के साथ निस्ता गांव में पहुंचा और एक घर की महिलाओं के साथ बदसलूकी की और वीभत्स तरीके से मारपीट की. इस पर राजद के अ?दुल बारी सिद्दीकी उठे और कहा कि इस मामले का सरकार संज्ञान ले. कान बंद नहीं करे. सरकार इस पूरे मामले की जांच कराए. सदन को यह जानकारी दी गई कि जिस थानेदार ने इस कृत्य को अंजाम दिया उसका तबादला हो चुका है. राजद की ओर से कहा गया तबादले से काम नहीं चलने वाला उस पर कार्रवाई होनी चाहिए. सदन की कमेटी द्वारा इसकी जांच कराने की मांग भी उठी. विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने कहा कि ऐसे मामले में सरकार जरूर कार्रवाई करेगी और जांच कराएगी. विधानसभा में जिस वक्त यह मामला उठा उस समय सरकार के प्रतिनिधि के रूप में राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल मौजूद थे. उन्होंने कहा कि सरकार जांच कराएगी और प्रतिवेदन भी तैयार किया जाएगा.