2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
1- मेहर में ली 50 किताबें
हर शादी में परंपरायें होती है जिन्‍हें निभाना जरूरी होता है पर केरल की सहला ने जो किया वो किसी भी लड़की का सिर गर्व से ऊंचा कर देगा। हैदराबाद यूनिवर्सिटी से पॉलिटिकल साइंस में पोस्‍टग्रेजुएट सहला ने अपने धर्म के लिए एक मिसाल पेश की है। सहला एक मुस्लिम फैमिली से आती हैं। शादी में एक रस्‍म होती है जिसे मेहर कहा जाता है। मेहर में वर पक्ष को एक तय की हुई रकम देनी होती है। सहला ने अपने मेहर में 50 किताबों की मांग की। दूल्‍हे ने भी खुशी-खुशी उनकी मांग पूरी की।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
2- शादी के दिन दिया एग्‍जाम
 तेलंगाना में हुई एक शादी पिछले दिनो सुर्खियों में छाई रही। वजह थी शादी के दिन ही दुल्‍हन का एग्‍जाम होना। वर पक्ष के लोगों ने दुल्‍हन का पूरा सपोर्ट किया और उसे शादी वाले दिन एग्‍जाम देने की छूट मिली। 24 वर्षी रचना बताती हैं कि जब शादी की पोशाक में उन्‍होंने एग्‍जाम हॉल में प्रवेश किया तो हर कोई चौंक गया। उनके दोस्‍तों और परिवार ने उनका पूरा सपोर्ट किया। शादी के मुहूर्त का समय को थोड़ा बढ़ा दिया गया। रचना टीचर बनना चाहती हैं।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
3- जब मुस्लिम युवति ने दिया तलाक
मुस्लिम धर्म में तीन तलाक की प्रथा है। ऐसे में एक मुस्लिम महिला ने इसके खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और ट्रिपल तलाक के विरोध में बोली। लखनऊ की मोहिसिना से शादी के बाद दहेज की मांग की जा रही थी। जिसका उन्‍होंने विरोध किया। जब उनका पति नहीं माना तो उन्‍होंने तलाक देना ही ठीक समझा। मोहिसिना उन हजारों लड़कियों के लिए एक मिसाल हैं जो दिन रात दहेज की आग में जलती रहती हैं। कोई बाहर निकल आती है तो कोई मौत के आगोश में चली जाती है।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
4- तोड़ी परंपराओं की बेडि़यां
27 साल की श्रुति कृष्‍णा और रामनाथ ने हाल ही में बहुत ही साधारण तरीके से रजिस्‍ट्रार ऑफिस में शादी की है। वैसे तो इस शादी में सब कुछ सामान्‍य रहा। श्रुति ने ज्‍वैलेरी को ज्‍यादा अहम‍ियत नही दी। उन्‍होंने परंपरा को तोड़ते हुए थाली पहने से भी इंकार कर दिया। उन्‍होंने अपनी शादी के लिए मेनविटनेस के रूप में एक ट्रांसजेंडर शीतल श्‍यामा को चुना जो कि एक सामाजिक संस्‍था चलाती है। श्रुति ने कई मान्‍यताओं को तोड़ते हुए बहुत सी लड़कियों के लिए मिसाल पेश की है।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
5- घर में नहीं था टॉयलेट तो शादी के लिए किया मना
स्‍वच्‍छ भारत अभियान को बढ़ाते हुए कानपुर शहर की एक दुल्‍हन से शादी से इसलिए इंकार कर दिया क्‍योंकि उसकी ससुराल में टॉयलेट नही था। भारत सरकार लोगों को जागरूक करने के लिए घर में टॉयलेट बनवाने पर जोर दे रही है। जिससे खुले में शौंच को रोका जा सके। जहां लड़कियां बड़ी-बड़ी बातों को भी नजरंदाज कर देती हैं वहीं इस दुल्‍हन ने शादी करने से साफ इंकार कर दिया। उसने टॉयलेट बनने के बाद ही शादी करने की शर्त रखी। बॉलीवुड अभिनेत्री विधा बालन इन दिनो स्‍वच्‍छ भारत अभियान के लिए कैम्‍पेन भी कर रही हैं।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
6- जब डॉन्‍स करने का किया दुल्‍हन ने विरोध
आगरा की एक दुल्‍हन को जब दूल्‍हे के घरवालों ने वरमाला से पहले रोमांटिक सांग पर सभी के सामने डीजे पर डॉन्‍स करने के लिए फोर्स किया तो पहले तो दुल्‍हन ने मना कर दिया। कुछ देर बाद वर पक्ष के लोग दुल्‍हन से जबरजस्‍ती करने लगे। दूल्‍हे के अंकल ने शादी तोड़ने की धमकी दे डाली। ऐसे में दुल्‍हन ने खुद ही शादी करने से मना कर दिया।

2016 में इन भारतीय दुल्‍हनों ने पेश की मिसाल
7- कुत्‍ते की वजह से नहीं की शादी
शादियों में अक्‍सर कई तरह की बातें सामने आती हैं। कभी दहेज के कारण कोई शादी रुक जाती है तो कभी किसी कारण से पर जिसके बारे में हम आप को बताने जा रहे हैं वो सबसे खास हैं। बंगलुरु में एक लड़की ने शादी से इसलिए इंकार कर दिया क्‍योंकि उसका होने वाला पति उसके कुत्‍ते को नापसंद करता था। लड़की ने भी यह कहते हुए शादी करने से इंकार कर दिया कि लूसी उसकी दोस्‍त है और वो शादी के लिए उसे नहीं छोड़ेगी।

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

Interesting News inextlive from Interesting News Desk