आस्था और उल्लास के बीच धूमधाम से मनाया गया भैया दूज का त्योहार

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: भाई-बहनों के आपसी प्यार और स्नेह का प्रतीक त्योहार भैया दूज शुक्रवार को प्रयागराज में उल्लास के बीच धूमधाम से मनाया गया. शहर के एक छोर से लेकर दूसरे छोर तक सुबह से देर शाम तक त्योहार की धूम रही. बहनों ने विधि विधान से टीका, अक्षत व रोरी लगाकर भाइयों की आरती उतारी. उन्हें अपने हाथों से मिठाई खिलाकर उनकी लम्बी उम्र व सलामती की कामना की तो भाइयों ने भी उन्हें खुश करने का मौका नहीं छोड़ा और प्रेम की डोर को मजबूत करते हुए आकर्षक गिफ्ट प्रदान किए.

यमुना तट पर उमड़ी आस्था

परंपराओं के मुताबिक भइया दूज के अवसर पर यमुना तट पर भोर से ही स्नान-दान का सिलसिला शुरू हो गया था. जो अनवरत सुबह दस बजे तक चलता रहा. मान्यता है कि जो भाई यमुना में डुबकी लगाने के बाद अपनी बहन के घर जाते हैं उन्हें अकाल मृत्यु का सामना नहीं करना पड़ता है. यही वजह रही कि बलुआ घाट बारादरी पर भाई-बहन के साथ उनके परिजनों ने भी डुबकी लगाई. बहनों ने अपने भाइयों के लिए लम्बी उम्र की कामना की. साथ ही एक-दूसरे के प्रति स्नेह अधिक हो इसके लिए मंगल गीत भी गाए गए.

मिठाई की दुकान रही गुलजार

त्योहार की खुशियों को दोगुना करने के लिए शुक्रवार को मार्केट गुलजार रही. खासतौर से सिविल लाइंस, कटरा, अल्लापुर, बैरहना, चौक व तेलियरगंज सहित अन्य एरिया की मिठाई की दुकानों पर सुबह आठ बजे से ही लोगों की भीड़ लग चुकी थी. अपने भाइयों के घर जाने से पहले बहनों ने दुकान पर एक से बढ़कर एक मिठाइयों की खरीददारी की.