-अस्पताल प्रशासन ने पेशेंट्स को बरगलाने वाले 22 दलालों को किया चिन्हित

-कैंपस के तीन जगहों पर लगाया फोटो, लिस्ट में दो महिलाएं भी

varanasi@inext.co.in

VARANASI

बीएचयू के सर सुंदरलाल हॉस्पिटल में इलाज कराने पहुंचने वाले पेशेंट्स को मिसगाइड करना आम बात है. इसमें दलालों की अहम भूमिका है. वे बड़ी संख्या में हॉस्पिटल में सक्रिय हैं. इन्हें अस्पताल प्रशासन ने न केवल चिह्नित किया है बल्कि उनका डिजिटल डाटा भी बनाया है. साथ ही इनकी कैंपस में तीन जगहों पर फोटो भी लगा दी गयी है. ताकि दलाल मरीजों को बरगला न पाएं. बता दें कि दलाल भोले भाले पेशेंट्स को बरगलाकर प्राइवेट हॉस्पिटल में भेज देते हैं या फिर दवा की दुकानों तक ले जाते हैं. यहां उनका आर्थिक शोषण किया जाता है.

लोकल इंटेलिजेंस की नजर

हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन ने इन दलालों पर शिकंजा कसने की तैयारी पूरी कर ली है. इसके तहत एमएस प्रो. वीएन मिश्र की पहल पर 22 दलालों को चिन्हित किया गया है. खास बात यह कि इनमें दो महिलाओं को भी चिन्हित किया गया है. जिनकी फोटो हॉस्पिटल कैंपस में तीन जगहों पर लगा दिया गया है. ताकि दूर दराज से आने वाले पेशेंट्स व उनके तिमारदार इनके जाल में न फंसें. यही नहीं अस्पताल ने अपना लोकल इंटेलिजेंस भी तैयार किया है. सादे वेश में इंटेलिजेंस के मेंबर ओपीडी, ऑपरेशन थिएटर, दवा की दुकानों तथा वार्डो में घूमकर डिजिटल डाटा के माध्यम से दलालों की धरपकड़ करेंगे. सूचनाएं एकत्र कर सिक्योरिटी को देंगे.

एमएस ने किया था ट्वीट

सर सुंदरलाल हॉस्पिटल के एमएस प्रो. विजय नाथ मिश्र ने बताया कि हर हाल में अस्पताल को दलालों से मुक्त करने का प्रयास किया जा रहा है. इसके लिए पिछले दिनों ट्वीट के माध्यम से मैंने खुद पुलिस को भी जानकारी दी थी. बताया कि लंका पुलिस अथवा जिला प्रशासन की भी मदद जरूरत पड़ने पर ली जाएगी.