विस्फोट की वजह को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं

जांच एजेंसियां किसी साजिश से नहीं कर रहीं इनकार

एटीएस की दावा कि एसी पाइप लाइन फटने से हुई घटना

-घटनास्थल के नमूने भेजे जांच के लिए

varanasi@inext.co.in

VARANASI

एसएस हॉस्पिटल बीएचयू के इमरजेंसी में शक्तिशाली धमाका कैसे हुआ फिलहाल इसका जवाब किसी के पास नहीं है. जांच में जुटी एटीएस, पुलिस समेत अन्य एजेंसियों के मत इसे लेकर अलग-अलग हैं. हालांकि कोई किसी साजिश से भी इनकार नहीं कर रहा है. एटीएस ने मौके से जुटाए गए सुबूत को जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया है.

जितने लोग उतनी बातें

विस्फोट के बाद कुछ लोगों का कहना था कि वार्ड की एसी पाइप फटने से धमाका हुआ. किसी ने आक्सीजन सिलेंडर की पाइप फटने को घटना का कारण बता रहे हैं. विस्फोट के बाद पूरे इमरजेंसी वार्ड में अंधेरा छा गया. जहां धमाका हुआ था वहां की क्भ् इंच से अधिक मोटी बीम, क्ख् इंच मोटी दीवारों के साथ ही फाल्स सिलिंग गिर पड़ी. जो एसी पाइप और आक्सीजन सप्लाई पाइप के चलते हुए विस्फोट की बात को खारिज कर रहे हैं. वहीं पर कुछ अधिकारियों ने घटना स्थल पर अमोनिया की गंध को महसूस किया है. हालांकि एटीएस के अधिकारियों ने अपनी प्रारंभिक जांच में इस घटना के लिए एसी पाइप लाइन के फटने को ही कारण माना है और घटनास्थल से प्राप्त अवशेषों को जांच के लिए भेजने की बात कही है.

वर्जन

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि एसी पाइप लाइन के फटने से घटना हुई है. यह जरूर है कि धमाका काफी तेज था. मौके से मिले अवशेषों को जांच के लिए भेजा गया है.

संतोष सिंह, एएसपी, एटीएस

वर्जन

बीएचयू हॉस्पिटल में हुई घटना दुखद है. सभी घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था की गई है. यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशन मामले की अपने स्तर पर भी जांच करायेगा.

-प्रो. जीसी त्रिपाठी, वीसी, बीएचयू

यह सामान्य विस्फोट नहीं था.

जितनी तेज आवाज हुई वह किसी भी तरह से एसी या आक्सीजन की पाइप लाइन के फटने से नहीं हो सकती. घटना के बाद पूर वार्ड में अमोनिया की गंध देर तक आ रही थी. किसी साजिश से इनकार नहीं किया जा सकता है.

-डॉ. ओपी उपाध्याय, एमएस , एसएस हॉस्पिटल, बीएचयू

-----------

घायलों की सूची

गंभीर घायल

क्. सुषमा रीता लाल, नर्स-बीएचयू

ख्. संदीप, वार्ड ब्वॅाय-बीएचयू

फ्. दीपक, पता अज्ञात

ब्. परमावती देवी, पता अज्ञात

भ्. शंकर, पता अज्ञात

म्. सीमा सिंह, नर्स-बीएचयू

7. अश्रि्वनी सिंह, लालगंज-आजमढ़

खतरे से बाहर घायल

क्. राजेश सिंह, बनारस

ख्. जितेंद्र, आजमगढ़

फ्. ऋषिकेश, मऊ

ब्. भवन प्रसाद, मऊ

भ्. शिव कुमार, पता अज्ञात

म्. मेहराज, जौनपुर

7. रामाश्रय प्रसाद, सुरक्षाकर्मी-बीएचयू

8. रूपेश यादव

9. विवेक यादव

क्0. विकास यादव

क्क्. अमित यादव

क्ख्. मुहम्मद सुहैल मंसौरी

क्फ्. खुशबू

क्ब्. त्रिलोकी दुबे

क्भ्. बाबू लाल

क्म्. लीलावती

क्7. दीपक

क्8. संदीप

बॉक्स

हॉस्पिटल में बनाया गया कंट्रोल रूम

हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेशन ने घटना के बाबत एक कंट्रोल रूम बनाया है. जहां से घटना में घायल मरीजों के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है. कंट्रोल रूम के नम्बर इस प्रकार है (0भ्ब्ख्) ख्फ्09ख्म्0, ख्फ्09फ्08, ख्फ्09फ्09, ख्फ्09ख्भ्9.