-बीएचयू के इंटर फैकल्टी यूथ फेस्टिवल स्पंदन-18 का हुआ शुभारंभ

-कार्यक्रम में बतौर चीफ गेस्ट शामिल हुए प्रख्यात सरोद वादक अमित भट्टाचार्या

-स्टूडेंट्स ने ढोल नगाड़े की थाप के बीच निकाली सांस्कृतिक शोभायात्रा

varanasi@inext.co.in

VARANASI

हर ओर उल्लास और उमंग का जज्बा. सबके चेहरों पर हंसी और खुशी. पैरों में थिरकन और दिल में स्पंदन. जी हां, यह मौका था बीएचयू के इंटर फैकल्टी यूथ फेस्टिवल 'स्पंदन' के औपचारिक उद्घाटन का. प्रख्यात सरोद वादक अमित भट्टाचार्य ने स्पंदन में बतौर चीफ गेस्ट शिरकत की. काशी की धरती में जन्मे प्रथमेश को नमन करते हुए छात्रों को संगीत व शिक्षा के तालमेल से जीवन में अनुशासन लाने की सलाह दी और उनके उच्जवल भविष्य की कामना की.

पांच मिनट में कह दी बात

इसके पूर्व एम्फीथियेटर ग्राउंड पर विभिन्न फैकल्टीज व इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स की टीम का जुटान हुआ. जुलूस की शक्ल में ग्राउंड में पहुंचे स्टूडेंट्स ने विभिन्न सामाजिक मुद्दों जैसे 'वसुधैव कुटुम्बकम', 'स्वच्छ एवं स्वस्थ भारत', 'मेरा इतिहास मेरा गौरव' 'सबको अक्षर सब हों साक्षर' झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की गाथा के जरिये भारत की आधी आबादी की शक्ति को लघु नाटिका के जरिये प्रस्तुत किया. हर टीम को अपनी बात जजेज तक पहुंचाने के लिए पांच मिनट का समय निर्धारित किया गया था. जजेज ने स्टूडेंट्स के हर एक्ट को बारीकी से देख कर जज किया.

खुल कर रखे विचार

इधर स्पंदन के दूसरे दिन विभिन्न आयोजन स्थलों पर तीन प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ. जिसके तहत महामना सभागार में निबंध-लेखन, स्वतंत्रता भवन में टर्न कोट्स व केएन उडप्पा ऑडिटोरियम में मिमिक्री ईवेंट्स हुए. महामना ऑडिटोरियम में हुए निबंध लेखन ईवेंट में सोशल मीडिया: सामाजिक और नैतिक मूल्यों के लिए जोखिम विषय पर 51 स्टूडेंट्स ने हिंदी, अंग्रेजी और संस्कृत में अपने विचार व्यक्त किये. ईवेंट का संचालन प्रो. मधु तापडिया ने किया. स्वतंत्रता भवन में टर्न कोट्स में विभिन्न संकायों के 20 प्रतिभागियों ने अपनी सहभागिता दर्ज करायी. हर प्रतिभागी को 10 मिनट का समय दिया. जिसमें उन्होंने नारी उत्थान, शराबबंदी, नोटबंदी, निजीकरण आदि मुद्दों पर अपने विचार रखे.

मिमिक्री कर खूब हंसाया

उधर केएन उडप्पा सभागार में आयोजित मिमिक्री ईवेंट में विभिन्न संस्थानों, संकायों एवं संबद्ध कॉलेजेज के चौदह प्रतिभागियों ने भाग लिया. पार्टिसिपेंट्स ने पीएम नरेन्द्र मोदी, अभिनेता प्राण, स्वर कोकिला लता मंगेशकर, राहुल गांधी, नाना पाटेकर, कंगना रनौट, सोनम कपूर आदि की नकल उतारकर दर्शकों का खूब मनोरंजन किया. आ‌र्ट्स फैकल्टी के नीलेश ने आल इंडिया रेडियो के रेडियो जॉकी की, अभिनेता दिलीप कुमार की और बनारस के चाय वाले की मिमिक्री कर खूब तालियां बटोरी. संचालन डॉ. अभिनव कुमार मिश्रा ने किया.