-हार के बावजूद भी मिला लोगों का प्यार

-सबसे ज्यादा वोट पाने मे राजद दूसरे नंबर पर

PATNA: बिहार विधानसभा चुनाव में भले ही एनडीए को बहुमत नहीं मिली हो, लेकिन बिहार की जनता ने सबसे ज्यादा कमल के बटन को दबाया है. बीजेपी को सबसे ज्यादा वोट मिले हैं. वहीं आरजेडी दूसरी ऐसी पार्टी है जिसे सबसे ज्यादा लोगों ने वोट दिया है. बाकी के अन्य दल इन दोनों दलों के पीछे-पीछे चलते नजर आये. हालांकि बहुमत के हिसाब से आरजेडी को सबसे ज्यादा सीटें आई हैं जिसकी वजह कम सीटों पर लड़ना है, जबकि बीजेपी सबसे अधिक सीटों पर खड़ी थी, जिसकी वजह से उसे ज्यादा लोगों ने पसंद जरूर किया लेकिन बीजेपी के पाले में सीट कम आई. आंकड़ों के अनुसार बीजेपी को सबसे ज्यादा ख्ब्.ब् प्रतिशत वोट मिले हैं, वहीं राजद को सिर्फ क्8.ब् प्रतिशत ही वोट मिल पाये हैं.

हार कर भी लोगों का दिल जीता

इस चुनाव में बीजेपी ने क्भ्9 सीटों से चुनाव लड़ा था, जबकि आरजेडी व जदयू ने क्0क् -क्0क् सीटों से चुनाव लड़ा. जिससे यह तो पता चल रहा है कि इस चुनाव में सबसे ज्यादा सीटों पर अगर कोई चुनाव लड़ा है तो वो बीजेपी है. बाकी बची सीटों पर एलजेपी, रालोसपा, हम, कांग्रेस व अन्य दलों ने चुनाव लड़ा था.

किसे कितना मिला वोट

बीजेपी को सबसे ज्यादा 9फ्,08,0क्भ् वोट मिला, जबकि आरजेडी दूसरे नंबर पर रही. उसे म्9,9भ्,भ्09 वोट मिले. वहीं तीसरे नंबर पर जदयू रही जिसे म्ब्,क्म्,ब्क्ब् वोट मिले. चुनाव परिणाम भले ही चौंकाने वाले हो लेकिन जिस तरह से जनता ने कमल छाप को पसंद किया है, उतना तो ना ही जदयू और ना ही आरजेडी को पसंद किया गया है. अगर एनडीए और महागठबंधन को देखा जाये तो सबसे कम हम को लोगों ने वोट दिया है.

पार्टी -सीट -जीते -कितना वोट मिला -वोट प्रतिशत

बीजेपी- क्भ्9 भ्फ् 9फ्,08,0क्भ् ख्ब्.ब्

आरजेडी-क्0क् 80 म्9,9भ्,भ्09 क्8.ब्

जदयू- क्0क् 7क् म्ब्,क्म्,ब्क्ब् क्म्.8

कांग्रेस- ब्क् ख्7 ख्भ्,फ्9,म्फ्8 म्.7

एलजेपी- ब्0 0ख् क्8,ब्0,8फ्ब् ब्.8

रालोसपा ख्फ् 0ख् 9,7म्,787 ख्.म्

हम- ख्क् 0क् 8,म्ब्,8भ्म् ख्.फ्

सीटें ज्यादा वोट भी ज्यादा

बीजेपी सबसे ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ रही थी, जिसकी वजह से बीजेपी के पाले में वोट प्रतिशत भी ज्यादा आया. दूसरी ओर आरजेडी, बीजेपी से भ्8 सीटों पर कम लड़ रही थी. इन सभी राजनैतिक दलों के बीच राजद ही एक ऐसी पार्टी दिख रही है जिसे पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले सीटों के साथ-साथ लोगों का प्यार भी ज्यादा मिला. लेकिन इन सबके बीच जदयू इसे भंजाने में कहीं ना कहीं असफल रही है, क्योंकि पिछले विस चुनाव की तुलना में जदयू को ब्ब् सीटें गंवानी पड़ी, जबकि आरजेडी को म्8 सीटों का फायदा मिला.