PATNA : नीतीश मंत्रिमंडल के कई मंत्रियों ने ख्क् नवंबर को ही पदभार संभाल लिया था, लेकिन लालू प्रसाद के दोनों पुत्रों सहित कई नेताओं ने सोमवार को पदभार ग्रहण किया. इन मंत्रियों को शुभकामना देने के लिए शुभचिंतकों का आना जाना पूरे दिन लगा रहा. ज्यादातर मंत्रियों ने अपने विभागीय अफसरों के साथ मीटिंग की और दिशा-निर्देश दिया.

इन्होंने संभाला पदभार

उपमुख्यमंत्री व पथ निर्माण मंत्री तेजस्वी यादव, वित्त मंत्री अब्दुलबारी सिद्दीकी, ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार, शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी, स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव, राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री मदन मोहन झा, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री कृष्णनंदन वर्मा, निबंधन उत्पाद व मद्य निषेध मंत्री अब्दुल जलील मस्तान, नगर विकास एवं आवास मंत्री महेश्वर हजारी, अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण मंत्री संतोष निराला, पविरहन मंत्री चंद्रिका राय, समाज कल्याण मंत्री अलका वर्मा आदि ने पदभार संभाला.

नहीं बचेंगे भ्रष्टाचारी

पद संभालते हुए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि भ्रष्टाचारियों को कतई बख्शा नहीं जाएगा. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकारी डॉक्टरों की प्राइवेट प्रैटिक्स पर रोक लगेगी और नर्सिग होम को कानून के दायरे में लाया जाएगा. ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेश कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री की इच्छा अनुरूप गांवों को समृद्ध बनाने के लिए नई सड़कें तो बनेंगी ही पुरानी सड़कों को भी सुदृढ़ किया जाएगा. नगर विकास एवं आवास मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा कि मेट्रो रेल से लेकर सफाई तक उनकी प्राथमिकता में सबसे ऊपर होगी. राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री मदन मोहन झा ने पद संभालने केबाद कहा कि जमीन का हर ब्योरा आन लाइन होगा. उन्होंने वैसे पिछड़ों और दलितों को जिन्हें पर्चा मिल चुका है को जमीन पर दखल दिलाने बात भी कही.