allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: निषाद पार्टी द्वारा रायपुर के मेजा में शुक्रवार को वीरांगना फूलन देवी के जन्मोत्सव पर सम्मेलन का आयोजन किया गया. इसमें निषाद वंशीय मांझी, मझवार, कश्यप, बाथम, केवट, कहार, धीवर, निषाद बिन्द समेत दस हजार लोगों ने हिस्सा लिया.

कर रहे वादाखिलाफी

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय कुमार निषाद मुख्य अतिथि ने कहा कि भाजपा सरकार की वादाखिलाफी के चलते देश में 25 करोड़ की जनसंख्या वाले मछुवारों को आज अपने ही अधिकारों से वंचित होना पड़ रहा है. भाजपा ने सत्ता में आते ही मछुवारा समाज की सभी जातियों को अनुसूचित जनजाति मे शामिल करने तथा समान मछुवा नीति लागू कर नदी, तालाबों, बांधों में मछुवारों का हक दिलाने वादा किया था. लेकिन दो साल बाद यह वादे मुंह में राम बगल में छुरी वाली कहावत साबित हो रहे हैं. प्रदेश में मछुआरे बहुत संख्यक में है किंतु आज तक भाजपा और कांग्रेस, सपा, बसपा इत्यादि राजनीतिक पार्टियों ने किसी को न तो राजनीतिक संरक्षण दिया और ना ही कैबिनेट में कोई प्रतिनिधित्व दिया.

उन्होंने कहा की देश का मान-सम्मान स्वाभिमान और संविधान आपके हाथों में है इस बार आपको निषाद पार्टी के बैनर तले अपने नेता का आदेश मानना है. कहा कि अपने प्रत्याशी को वोट देकर जिताएं और उसे सदन में पहुंचाने का काम करें. कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के हजारों की संख्या में उपस्थित मछुआरों का आभार व्यक्त करते हुए निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल के लिए आगामी चुनाव में लग जाने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि सभी स्तर तक के कमेटी का गठन हो गया है. गठबंधन दल मछुआरा समुदाय का आरक्षण प्रमाण देने का फैसला लिया है सम्मानजनक सीटों के साथ गठबंधन से मिलकर चुनाव लड़ेंगी.