- गोरखपुर में एक माह में 45 लाख का ब्लड कारोबार

- गोरखपुर जिले में सिर्फ सात ब्लड बैंक स्थापित, हर माह 5320 यूनिट की खपत

- सरकारी में 400 रुपए तो प्राइवेट में 1050 रुपए निर्धारित ब्लड चार्ज

GORAKHPUR: शहर में बढ़ती बीमारियों के साथ-साथ यहां ब्लड का कारोबार भी चरम पर है. सिर्फ गोरखपुर जिले में हर माह सरकारी व निजी ब्लड बैंक से करीब 45 लाख रुपए का ब्लड कारोबार होता है. सरकारी में 400 रुपए प्रति यूनिट और आउट डोर में 1050 रुपए एक यूनिट ब्लड का चार्ज निर्धारित है. आंकड़ों के मुताबिक सरकारी व निजी ब्लड बैंक में 5320 यूनिट हर माह ब्लड की खपत होती है. यह कवायद एक दूसरे की जान बचाने के लिए लोगों की मदद से की जाती है. ब्लड डोनेट करने में कई संस्थाएं कार्य करती है. शहर में जिला अस्पताल, बीआरडी मेडिकल कॉलेज और निजी ब्लड बैंक ब्लड देने का कार्य कर रहे हैं.

ब्लड देने के ये हैं फायदे

बीआरडी मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल के ब्लड बैंक प्रभारी का कहना है कि नियमित ब्लड डोनेट करने वालों को हार्ट अटैक की आशंका कम रहती है. नियमित ब्लड डोनेट करने से ब्लड पतला होता है. यह हृदय के लिए अच्छा होता है. नए शोधों में पता चला है कि नियमित ब्लड डोनेट से कैंसर व अन्य बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है, क्योंकि इसके जरिए शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं. ब्लड प्रेशर काबू में रहता है. ब्लड डोनट के बाद बोन मैरो नए रेड ब्लड सेल्स बनाता है. इससे शरीर चुस्त-दुरूस्त रहता है. वाइट ब्लड सेल्स भी नई बनतीं हैं जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. जितना भी एक बार में ब्लड हम देते हैं उसे शरीर 21 दिन में बना लेता है. ब्लड का वाल्यूम 24 से 72 घंटे में ही पूरा हो जाता है. ब्लड डोनेट के बाद होने वाली ब्लड की जांच में शरीर में छिपीं विभिन्न बीमारियों का भी पता चल जाता है.

यह भी जानिए

-एक बार में 350 मिलीग्राम ब्लड लिया जाता है.

- तीन महीने के अंतराल पर ही ब्लड डोनेट करना चाहिए.

- ब्लड डोनेट से हुई ब्लड की कमी 24 घंटे में पूरी हो जाती है.

- एक यूनिट ब्लड से एक यूनिट प्लाज्मा, एक यूनिट प्लेटलेट्स, एक यूनिट आरबीसी और एक यूनिट क्रायो मिलता है.

ब्लड डोनेट से पहले क्या करें

- खाली पेट ब्लड डोनेट करें. पर्याप्त पेय पदार्थ या अल्पाहार जरूर लें.

- ब्लड डोनेट से पहले पर्याप्त नींद और आराम करना चाहिए.

ब्लड डोनेट के लिए जरूरी

- ब्लड डोनेट की उम्र 18 से 60 साल के बीच हो.

-शरीर का वजन न्यूनतम 45 किलो होना चाहिए

- हीमोग्लोबिन 12.5 प्रतिशत होना चाहिए.

फैक्ट फिगर

- जिला अस्पताल के ब्लड बैंक से एक माह में ब्लड की खपत करीब - 232 यूनिट

- बीआरडी मेडिकल कॉलेज के ब्लड बैंक में एक माह में ब्लड की खपत करीब -1000 यूनिट

- चार निजी ब्लड बैंक से एक माह में ब्लड की खपत करीब - 3800 यूनिट

- सरकारी अस्पताल में एक यूनिट ब्लड का चार्ज - 400 रुपए प्रति यूनिट

- निजी ब्लड बैंक में एक यूनिट ब्लड का चार्ज लगभग - 1050 रुपए प्रति यूनिट