-डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल ब्लड बैंक में निगेटिव ग्रुप के ब्लड खत्म

-आईएमए और डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल ब्लड बैंक में बढ़ी चार गुना तक डिमांड

<द्गठ्ठद्द>क्चन्क्त्रश्वढ्ढरुरुङ्घ<द्गठ्ठद्दद्गठ्ठस्त्र> :

बुखार से हो रही मौतों के बीच अब खून की कमी से हाहाकार मच गया है. डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल से लेकर आईएमए और दूसरे ब्लड बैंक में निगेटिव ब्लड ग्रुप के खून की भारी कमी हो गई है. हाल यह हैं कि निगेटिव डोनर मिलने पर वही ब्लड प्रोसेस के बाद अवेलेबल हो पा रहा है. इसके अलावा पॉजिटिव ग्रुप पर संकट के बादल छाये हुए हैं.

77 यूनिट ब्लड शेष

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के ब्लड बैंक इंचार्ज डॉ. यूवी सिंह ने बताया कि ब्लड बैंक में इस समय मात्र 77 यूनिट ही ब्लड बचा है, जिसे मरीजों को उपलब्ध कराया जा रहा है. वहीं निगेटिव गु्रप के ब्लड की बात करें तो ए निगेटिव ग्रुप का केवल एक यूनिट ही ब्लड बचा है. जबकि बी निगेटिव, ओ निगेटिव और एबी निगेटिव गु्रप का एक यूनिट ब्लड भी नहीं बचा है. ऐसी स्थित में जब डॉक्टर किसी मरीज को निगेटिव ग्रुप के ब्लड की डिमांड करते हैं, तो उसे हॉस्पिटल में ब्लड ही नहीं मिलता है, जिससे वह भी आईएमए ब्लड बैंक के लिए दौड़ लगाने को मजबूर हो जाता है.

निगेटिव ग्रुप के कम आते हैं डोनर

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में कॉमन ग्रुप यानि ए, बी, ओ और एबी पॉजिटिव ब्लड तो उपलब्ध है, लेकिन वह भी इतना नहीं है कि यदि एक साथ ज्यादा ब्लड की डिमांड आ जाए तो उसे पूरा किया जा सके. वहीं निगेटिव ब्लड के डोनर कम आने के चलते निगेटिव गु्रप के ब्लड की समस्या यहां बनी रहती है.

आईएमए में स्िथति सामान्य

आईएमए ब्लड बैंक में ब्लड की डिमांड के साथ ही डोनर की संख्या भी बढ़ी है. आईएमए में ब्लड डोनेट करने के बाद ही ब्लड दिया जाता है. जिसके चलते सुबह से शाम तक ब्लड डोनेट करने वालों की काफी भीड़ रही. वहीं आईएमए ब्लड बैंक में इंचार्ज ने बताया कि बैंक में करीब 15 सौ से 2 हजार यूनिट तक ब्लड रहता है. लेकिन इस समय डिमांड काफी बढ़ी हुई है. जिसके चलते डोनेट करने वालों की संख्या भी बढ़ी है.

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में ब्लड

ग्रुप यूनिट उपलब्ध

ए पॉजिटिव- 18

बी पॉजिटिव-14

ओ पॉजिटिव-40

एबी पॉजिटिव-04

ए निगेटिव-01

बी निगेटिव-00

ओ निगेटिव-00

एबी निगेटिव-00

===

हॉस्पिटल की ब्लड बैंक में निगेटिव ग्रुप का ब्लड उपलब्ध नहीं है. कोई डिमांड करता है तो उसे वापस करना पड़ता है. फिलहाल जो जिस ग्रुप का ब्लड उपलब्ध है उसकी डिमांड आने पर तुरंत दिया जा रहा है.

डॉ. यूवी सिंह, ब्लड बैंक इंचार्ज डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल

---

इन दिनों आईएमए के अलावा शहर के अन्य ब्लड बैंक्स में निगेटिव ब्लड ग्रुप की कमी हो गई है. निगेटिव ग्रुप के डोनर मिलने पर उसी के खून को प्रोसेस कर दिया जा रहा है. पॉजिटिव ब्लड ग्रुप के खून उपलब्ध हैं. उसमें भी कुछ एक ग्रुप की सार्टेज है.

डॉ. प्रमेंद्र माहेश्वरी अध्यक्ष आईएमए

डॉ. अंजू उप्पल, ब्लड बैंक इंचार्ज, आईएमए