-मैं बालिग हूं, अपनी मर्जी से आयी हूं, प्रेमी के घर से बरामद करनी पहुंची थी पुलिस

-परिजनों ने सुभाषनगर चौकी इंचार्ज पर रिश्वत मांगने और लड़की को भगाने का लगाया आरोप

BAREILLY: शोले फिल्म में पानी की टंकी पर चढ़कर एक्टर धर्मेद्र के नीचे कूदने के तरह का ही सीन सुभाषनगर में दिवाली की रात दिखा. सीन में फर्क बस इतना था लेकिन यहां कूदने की धमकी देने वाली एक लड़की थी. लड़की मकान की चौथी मंजिल पर चढ़ी थी और कैंट पुलिस उसे लेने के लिए पहुंची थी. लड़की के नीचे कूदने की धमकी के बाद पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ा. वहीं इस मामले में सुभाषनगर पुलिस पर लापरवाही के गंभीर आरोप लगे हैं. परिजनों ने इंस्पेक्टर पर मामले को टरकाने और चौकी इंचार्ज पर 20 हजार की रिश्वत मांगने और फिर रात में लड़की व उसके अपहरण के आरोपी को भगाने में मदद का आरोप लगाया है. परिजनों ने मामले की शिकायत एसपी सिटी और एसएसपी ऑफिस में की है.

रास्ते में जाते वक्त लेकर गया

स्टेशन रोड कैंट निवासी शख्स के मुताबिक उसकी 17 वर्षीय बेटी 7 नवंबर को अपने घर से नानी के घर सुभाषनगर जा रही थी. रास्ते में विजय द्वार से पहले बजरिया निवासी रवि बहला-फुसलाकर ले गया. उसे ले जाते वक्त उसकी मां ने देखा तो आवाज भी दी लेकिन वह भाग गए. उसके बाद से उनकी बेटी रवि के घर में बंधक है. जब वह लोग रवि के घर बेटी को लेने पहुंचे तो उसने जान से मारने की धमकी दी. जब उन्होंने इस बारे में इंस्पेक्टर सुभाषनगर से बात की तो उनसे कह दिया गया कि मामला कैंट थाने का है. जब तक कैंट थाना इंस्पेक्टर मदद नहीं मांगेंगे तब तक वह कुछ नहीं करेंगे.

बैरंग लौटना पड़ा पुलिस को

पिता के मुताबिक उसके बाद उन्होंने वेडनसडे को एसएचओ कैंट से जाकर शिकायत की. जिसके बाद पुलिस ने अपहरण की एफआईआर दर्ज कर ली. रात में इंस्पेक्टर कैंट परिजनों के साथ मौके पर पहुंचे. पुलिस ने दरवाजा खुलवाने की कोशिश की तो दरवाजा नहीं खोला गया. जिसके बाद पुलिस दूसरे रास्ते से दूसरी मंजिल तक पहुंची और लड़की को नीचे आने के लिए कहा. इस पर लड़की ने साफ कह दिया कि वह बालिग है. वह अपनी मर्जी से रवि के साथ आयी है और उसी के साथ रहेगी. यदि पुलिस घर के अंदर आएगी तो वह नीचे कूद जाएगी. रवि भी नीचे कूद जाएगा. काफी देर समझाने के बाद भी जब लड़की नहीं मानी तो इंस्पेक्टर ने एसपी सिटी को इस बारे में बताया. उसके बाद अधिकारियों ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस को वापस बुला लिया.

पुलिस करती ही रह गई पहरा

परिजनों का आरोप है कि उसके बाद चौकी सुभाषनगर प्रभारी सुभाष यादव ने कहा कि दोनों घर से कहां जाएंगे. घर के नीचे पुलिस तैनात कर दे रहे हैं और जैसे ही दोनों नीचे आएंगे तो पकड़ लेंगे, लेकिन रात में लड़की और रवि दोनों गायब हो गए और घर में बाहर से ताला लग गया. उनका आरोप है कि चौकी इंचार्ज ने दोनों को भागने में मदद की है. वहीं आरोप है कि उससे पहले चौकी इंचार्ज ने एक एडवोकेट के जरिए लड़की वापस दिलाने के लिए 20 हजार रुपए की मांग की थी. आरोप है कि पुलिस रवि की मदद कर रही है, क्योंकि वह पुलिस का मुखबिर भी है.

2-----------------------

दो अन्य युवतियों का बहला-फुसलाकर अपहरण

सुभाषनगर थाना अंतर्गत ही दो अन्य युवतियों के अपहरण का मामला सामने आया है. करेली निवासी 19 वर्षीय लड़की 6 नवंबर को मार्केट गई थी. उसे अनुपम नगर त्रिमूर्ति पैलेस निवासी संजीव भगाकर ले गया है. संजीव की मदद उसकी बहन, चाचा और भांजा कर रहे हैं. वहीं करेली से एक अन्य 19 वर्षीय युवती के बहला-फुसालकर अपहरण का आरोप याकूब पर लगा है. याकूब गांव का रहने वाला है. वह 4 नवंबर को युवती को लेकर गया है. जब लड़की के परिजन याकूब के घर शिकायत लेकर पहुंचे तो परिजन उसपर ही हमलावर हो गए.