ट्रंप को बताई सारी बातें
सिओल/टोकियो (रॉयटर्स)।
अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो तीसरी बार उत्तर कोरिया पहुंचे हैं। उन्होंने शनिवार को यानी कि दूसरे दिन भी उत्तर कोरिया में वार्ता का एक कार्यक्रम आयोजित किया है ताकि परमाणु निस्त्रीकरण के मुद्दे पर एक ब्योरा लिया जा सके। बता दें कि प्योंगयांग में शुक्रवार को अपनी पहली रात बिताने के बाद पोंपियो ने सरकारी गेस्ट हाउस छोड़ दिया. बता दें कि इसी जगह से उन्होंने सरक्षित फोन कॉल के जरिये राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दोनों देशों के बीच शुक्रवार को हुई बातचीत के बारे में बताई।

तीन घंटे तक चली बातचीत

पोंपियो ने दूसरे दिन भी अपने समकक्ष और उत्तर कोरियाई पार्टी के अधिकारी किम योंग चोल के साथ बैठक की। बता दें कि किम योंग चोल वही व्यक्ति हैं, जिन्होंने 12 जून को सिंगापुर में ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच हुई बातचीत की व्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। किम योंग चोल ने मीटिंग की शुरुआत में कहा कि दोनों नेताओं ने शुक्रवार को बहुत ही महत्वपूर्ण और गंभीर मसलों पर चर्चा किया था। दोनों के बीच लगभग तीन घंटे तक बातचीत चली थी।

प्रमुख जानकारी हासिल करना है उद्देश्य
गौरतलब है कि पोंपियो ने उत्तर कोरिया जाने से पहले कहा था कि सिंगापुर में हुई वार्ता के बाद से परमाणु निस्त्रीकरण को लेकर उत्तर कोरिया से बातचीत जारी है। इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य कुछ प्रमुख जानकारी हासिल करना है। उन्होंने बताया कि वो चाहते हैं कि दोनों नेताओं ने एक-दूसरे तथा दुनिया से जो वादा किया है उसे जितना जल्दी हो पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि वो उम्मीद करते हैं कि उत्तर कोरिया भी ऐसा करने के लिए तैयार है।

किम जोंग तीसरी बार पहुंचे चीन, चिनफिंग को बतायेंगे ट्रंप से हुई मुलाकात की पूरी कहानी

जापान ने टाला उत्तर कोरिया के मिसाइल हमले से बचाव का अभ्यास, ट्रंप-किम वार्ता के बाद लिया निर्णय

International News inextlive from World News Desk