महिला खिलाड़ियों के लिए ये ड्रेस
दरअसल, कॉमनवेल्थ गेम्स इस साल चार अप्रैल से शुरू होने वाला है। भारतीय ओलिंपिक संघ ने फैसला लिया है कि पुरुष और महिला दोनों खिलाड़ियों के लिए इस बार उद्घाटन समारोह में एक ही जैसा ड्रेस कोड रखा जायेगा। दोनों ही उद्घाटन समारोह में नेवी ब्ल्यू ब्लेजर और ट्राउजर में नजर आयेंगे।

PNB की जितनी रकम नीरव मोदी ने अकेले 'लूटी' उतने में देश की आधी आबादी को मिल जाता 'मोदीकेयर'

महिला खिलाड़ियों के लिए सुविधाजनक
भारतीय ओलिंपिक संघ के आईओए सचिव राजीव मेहता ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि 'हमें पता चला था कि साड़ी को पहनने में अधिक समय तो लगता ही है और ये महिला खिलाड़ियों के लिए ये असुविधाजनक भी है। उद्घाटन समारोह में चार से पांच घंटे तक साड़ी को संभालना पड़ता है। इसके अलावा साड़ी पहनने के लिए खिलाड़ियों को मदद की भी जरूरत पड़ती है। इसी के चलते हमलोगों ने ये फैसला लिया है कि उद्घाटन समारोह में महिला और पुरुष खिलाड़ी दोनों का ड्रेस कोड एक तरह का ही होगा।

इस खिलाड़ी ने की ड्रेस की तारीफ  

कॉमनवेल्थ गेम्स में कई भारतीय महिला खिलाड़ियों ने साड़ी के उपर ब्लेजर पहनने के ड्रेस कोड पर शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसपर अब ठोस फैसला लिया गया है। ओलिंपियन निशानेबाज हिना सिद्धू ने इस बदलाव की तारीफ करते हुए कहा कि ब्लेजर और ट्राउजर काफी सुविधाजनक है और ये हमारा काफी समय भी बचाएगा। उन्होंने कहा कि 'मैंने 2010 कॉमनवेल्थ और 2010 एशियन गेम्स में साड़ी पहनी थी और मैंने अपनी आंटी से साड़ी पहनना सीखा था'।

भारत-पाकिस्‍तान का वो मैच जिसे किसी भी दर्शक को नहीं देखने दिया गया