BAREILLY: 7 फरवरी को मुख्यमंत्री सामूहिक शादी योजना को सफल बनाने में असमर्थ रहे अधिकारियों के पेंच ट्यूजडे को कसे गए. डीएम व सीडीओ ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समीक्षा बैठक में सख्त लहजे में अधिकारियों को भरपूर बजट होने के बाद भी विवाह न संपन्न करा पाने को लापरवाही करार दिया. एसडीएम, बीडीओ, स्थानीय निकायों के अधिकारियों को 24 घंटे में बैठक कर सामाजिक संस्थाओं व नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, पार्षदों से सहयोग लेकर शादी के पंजीकरण की संख्या को बढ़ाने को कहा है.

18, 22 या 24 को आयोजन

डीएम आर विक्रम सिंह ने कहा कि आगामी 18, 22, 24 फरवरी में शादी के मुहूर्त हैं उनमें समारोह का आयोजन कराया जाए. तहसीलदारों से कहा गया कि सामूहिक शादी वाले प्रकरणों में आय प्रमाण पत्र प्राथमिकता पर आवश्यकतानुसार मैनुअल निर्गत करें. ताकि, समय से औपचारिकताएं पूरी की जा सकें. वहीं, श्री शिरडी साई सेवा ट्रस्ट के सर्वराकार पं. सुशील पाठक ने बताया कि वह 10 लड़कियों के शादी के फॉर्म भरवा चुके हैं. योजना के प्रचार के लिए 60 हजार पैम्फलेट छपवाए हैं, जो ग्रामीणों को वितरित किए जा रहे हैं. डीएम ने कहा कि लक्ष्य 476 है, लेकिन पहले चरण में जिले भर में सौ विवाह कराने के निर्देश हैं, जिसे पूरा करना ही है.