-अखनूर सेक्टर में तैनात थे हेड कांस्टेबल ब्रज कुमार तिवारी

-मर्डर केस का समन जारी होने के बाद से थे परेशान

-पोस्टमार्टम के बाद शव दिल्ली में, आज एयर इंडिया से लाया जाएगा रांची

-बहन से एक दिन पहले फोन पर की थी बात, कहा था-रक्षाबंधन पर नहीं पर दशहरा में आऊंगा घर

ranchi@inext.co.in
RANCHI: भारत-पाकिस्तान सीमा पर अखनूर सेक्टर में तैनात बोकारो जिले के गोमिया प्रखंड के आइईएल निवासी बीएसएफ जवान ब्रज कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी (45 वर्ष) ने खुदकशी कर ली है. बुधवार तड़के उन्होंने अपने ही इंसास से खुद को उड़ा लिया. शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद दिल्ली लाया गया है, जहां से गुरुवार को एयर इंडिया के विमान से रांची लाया जाएगा और यहां से सड़क मार्ग से उसके बेरमो स्थित आवास ले जाया जाएगा.

समन के बाद से परेशान
बीएसएफ के डीजी कमल नयन चौबे के अनुसार प्रारंभिक छानबीन में यह स्पष्ट हुआ है कि जवान ब्रज कुमार तिवारी का पूरा परिवार किसी हत्याकांड का अभियुक्त है. इसकी जानकारी बीएसएफ को नहीं थी. कुछ दिन पहले ही जब कोर्ट का समन आया तो तिवारी परेशान हो गया. उसने बुधवार तड़के अपने ही इंसास से गोली मारकर खुदकशी कर ली. आशंका है कि कोर्ट समन के बाद तनाव में उसने यह कदम उठाया होगा. फिलहाल, छानबीन पूरी होने के बाद खुदकशी के कारण स्पष्ट होंगे.

मेरु में दी जाएगी सलामी
गुरुवार को मृत जवान का पार्थिव शरीर रांची से बीएसएफ कैंप हजारीबाग मेरु लाया जाएगा. जहां बीएसएफ की ओर से सलामी दी जाएगी. इसके बाद जवान का शव गोमिया लाया जाएगा. ब्रज कुमार गोमिया मॉडर्न स्कूल से माध्यमिक की परीक्षा 1996 में पास करके 20 वर्ष की आयु में ही हजारीबाग स्थित मेरु से बीएसएफ में बहाल हुए थे. बाद में उनकी पो¨स्टग दिल्ली सहित अन्य स्थानों में भी हुई. नई दिल्ली में ही कमांडो की ट्रे¨नग लेकर जम्मू कश्मीर के अखनूर सेक्टर में हेड कांस्टेबल के पद पर वर्तमान में वे तैनात थे.

परिवार के सदस्य रोकर बेहाल
ब्रज कुमार की मौत की आधिकारिक सूचना उनकी पत्नी समेत सभी परिजनों को दे दी गई है. जवान के परिवार में जवान की माता लालतारो देवी, पत्नी पुष्पा देवी और एक पुत्री ¨प्रसिका कुमारी (16 वर्ष), पुत्र प्रणव कुमार तिवारी (12 वर्ष) सहित जवान का एकमात्र छोटा भाई विनोद कुमार तिवारी है. ब्रज कुमार के बच्चे गोमिया के पिट्स मॉडर्न स्कूल में पढ़ते हैं. बेटी 12 वीं में और बेटा 7वीं कक्षा का छात्र है. पिता की मौत की सूचना के बाद बच्चों सहित पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों का रो-रोकर हाल बेहाल है. ब्रज कुमार के पिता स्व. यमुना तिवारी गोमिया आइईएल बारुद कारखाना के डेटोनेटर विभाग में कार्यरत थे, जिनका निधन पिछले वर्ष बीमारी के कारण हुआ था.