lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: बहुजन समाज पार्टी ने यह भी कहा है कि उसका कोई भी युवा मोर्चा, छात्रमोर्चा व महिला मोर्चा जैसा कोई संगठन भी नहीं है। पार्टी ने अपने समर्थकों को ऐसी भ्रामक खबरों से सावधान रहने की हिदायत देते हुए कहा कि यह विरोधी लोग पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए तरह-तरह के षडय़ंत्र रचते रहते है, यह उनकी ही चाल है।

प्रदेश अध्यक्ष का फर्जी पत्र
दरअसल बसपा के प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा ने शनिवार को कहा कि सोशल मीडिया पर मेरे लैटर पैड व हस्ताक्षर को स्कैन करके एक फर्जी पत्र को प्रमुखता से प्रचारित किया जा रहा है कि बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती का सोशल मीडिया वाट्सएप नंबर 9695168945 व पार्टी का युवा मोर्चा का गठन किया जा रहा है। एक साजिश के तहत भ्रामक प्रचार किया जा रहा है। बसपा में कोई भी युवा मोर्चा, छात्रमोर्चा या महिला मोर्चा जैसे संगठन नहीं है। इसी प्रकार का मेरे फर्जी हस्ताक्षर से जारी फर्जी पत्र पहले भी सोशल मीडिया पर प्रचारित किया जा चुका है।

फर्जी पत्र सोशल मीडिया पर  
अब इसी लैटर पैड को स्कैन करके दोबारा फर्जी पत्र सोशल मीडिया पर डाल दिया गया है। बताते चले कि इससे पहले सपा-बसपा गठबंधन का ऐलान होने के बाद सोशल मीडिया पर बसपा के प्रदेश अध्यक्ष का एक फर्जी लेटर वायरल हुआ था जिसमें 38 सीटों पर प्रत्याशियों के नामों का जिक्र था। बसपा प्रदेश अध्यक्ष ने इसका खंडन जारी करने के बाद राजधानी पुलिस को तहरीर देकर एफआईआर भी दर्ज करायी थी।

जानें सोशल मीडिया पर ऐसा क्या हुआ, जब मायावती को कहना पड़ा BSP का नहीं है कोई अकाउंट

National News inextlive from India News Desk