मुलायम सिंह यादव बने डॉक्‍टर मुलायम
समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव को डॉक्‍टर शकुंतला देवी मिश्रा पुनरुद्धार यूनिवर्सिटी के पहले दीक्षांत समारोह में डॉक्‍टरेट की मानद उपाधि से सम्‍मानित किया गया. सपा प्रमुख इस समारोह में चीफ गेस्‍ट के रूप में मौजूद थे और उनके साथ चीफ मिनिस्‍टर भी मौजूद थे. गौरतलब है कि अखिलेश यादव के पास उच्‍च शिक्षा मंत्रालय का भी पोर्टफोलियो है. इसके अलावा वह युनिवर्सिटी में पॉलिसी रिलेटेड फैसले लेने जनरल काउंसिल के चेयरमैन हैं. मुलायम सिंह यादव को यह उपाधि राज्‍यपाल राम नाईक द्वारा दी गई.

पॉलिटिकल साइंस ग्रेजुएट को मिलेगा गोल्‍ड मेडल
युनिवर्सिटी के पहले दीक्षांत समारोह में मुलायम सिंह यादव के नाम से दो गोल्‍ड मेडल भी शुरु किए जाने का फैसला लिया गया. इन मैडल्‍स को युनिवर्सिटी के पॉलिटिकल साइंस संकाय में सबसे ज्‍यादा नंबर लाने वाले दो छात्रों को दिया जाएगा. इसके साथ ही सीएम अखिलेश यादव ने संगीतकार रवींद्र जैन को यश भारती पुरुस्‍कार से सम्‍मानित किया. इसके अलावा कुल 77 स्‍टूडेंट्स को मेडल्‍स से नवाजा गया. इनमें 27 चांसलर मेडल, 33 चीफ मिनिस्‍टर मेडल और 9 डॉक्‍टर शकुंतला देवी गोल्‍ड मेडल शामिल हैं.

बसपा सुप्रीमों ने शुरू की थी युनिवर्सिटी

डॉक्‍टर शकुंतला देवी मिश्रा पुनरुद्धार यूनिवर्सिटी को साल 2011 में बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा इनऑगरेट किया गया था. इस मामले में सबसे जरूरी बात है कि यह युनिवर्सिटी बसपा में ऊंचा दर्जा प्राप्‍त नेता सतीश मिश्रा की मां डॉक्‍टर शकुंतला मिश्रा के नाम पर बनाया गया था.

Hindi News from India News Desk

National News inextlive from India News Desk