lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : बाराबंकी के पूर्व सपा अध्यक्ष डॉ। कुलदीप सिंह के भतीजे की रोड एक्सीडेंट में मौत हो गई। वह फैजाबाद हाईवे स्थित राम स्वरूप यूनिवर्सिटी में बीटेक सेकंड इयर का स्टूडेंट था। गुरुवार दोपहर वह स्कूटी से गोयल कॉलेज की ओर जा रहा था तभी लखनऊ से फैजाबाद जा रही रोडवेज बस की चपेट में आ गया। बस के पहिए में फंस कर वह काफी दूर तक घसीटता चला गया। एक्सीडेंट में वह गंभीर रूप से घायल हो गया और एक हॉस्पिटल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बीटेक सेकंड इयर का स्टूडेंट
बाराबंकी के सतरिख निवासी प्रिंसिपल देवेंद्र प्रताप का बेटा उत्कर्ष राम स्वरूप यूनिवर्सिटी में बीटेक सेकंड इयर का स्टूडेंट था। मंगलवार को वह घर से अपनी स्कूटी यूपी 32 एचई 4945 से कॉलेज जाने के लिए निकला था। दोपहर को वह अपने एक दोस्त के साथ फैजाबाद हाईवे स्थित गोयल कॉलेज गया।

बस की चपेट में आया
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उत्कर्ष दोस्त को गोयल कॉलेज में छोड़ने के बाद स्कूटी से यू टर्न कर वापस जाने के लिए चला था। तभी लखनऊ की तरफ से फैजाबाद जा रही चारबाग डिपो की बस यूपी 33 एटी 5405 ने स्कूटी में टक्कर मारी। तेज रफ्तार बस की टक्कर से उसकी स्कूटी पलट गई और बस के पहिए में फंस गई।

पहिए में फंस घसीटता रहा
रोडवेज बस के पहिए में फंस कर उत्कर्ष काफी दूर तक घसीटता चला गया। बस के ड्राइवर ने जब बस नहीं रोकी तो आसपास मौजूद लोगों ने बस का पीछा कर उसे घेरकर रोका। जैसे ही बस का ड्राइवर और क्लीनर को हादसे की जानकारी हुई तो वे बस छोड़कर भाग निकले। बस के पहिए में फंसे उत्कर्ष को लोगों ने किसी तरह बाहर निकाला। इस हादसे में उसका एक हाथ कट गया था। स्टूडेंट्स और स्थानीय लोगों ने उसे सफेदाबाद स्थित हिंद हॉस्पिटल में भर्ती कराया। जहां खून ज्यादा बहने से इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पथराव और जाम
उत्कर्ष की मौत की खबर मिलते ही राम स्वरूप यूनिवर्सिटी और गोयल कॉलेज के सैकड़ो स्टूडेंट्स ने हाईवे जाम कर दिया और रोडवेज बस पर पथराव किया। इसकी जानकारी मिलते ही चिनहट पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान स्टूडेंट्स ने करीब 1 घंटे तक ट्रैफिक रोके रखा, जिससे हाईवे के दोनों ओर गाडि़यों की लंबी कतार लग गई। बाद में पुलिस ने लाठी फटक कर जाम खुलवाया।

पूर्व सपा अध्यक्ष का भतीजा
उत्कर्ष बाराबंकी के पूर्व सपा अध्यक्ष डॉ। कुलदीप सिंह का भतीजा है। उनका बाराबंकी में अस्पताल है। जैसे परिजनों को एक्सीडेंट की सूचना मिली, दर्जनों गाडि़यों से लोग मौके पर पहुंच गए।