डीएन कॉलेज का था छात्र, घर से साइकिल से स्कूल जा रहा था, मेवला फ्लाईओवर पर हुआ हादसा

अनियंत्रित ई-रिक्शा और बस ने मारी टक्कर, गुस्साए छात्रों ने किया हंगामा

Meerut. जिम्मेदारों की लापरवाही की भेंट चढ़ गया एक परिवार का उजियारा. शनिवार को रोडवेज बस की टक्कर से डीएन कॉलेज के कक्षा 9 के छात्र आर्यन की मौत हो गई. टीपी नगर थानाक्षेत्र स्थित मेवला फ्लाईओवर पर दर्दनाक हादसा प्रात: 7 बजे हुआ, जब छात्र साइकिल से स्कूल जा रहा था. फ्लाईओवर पर ई-रिक्शा की टक्कर से लड़खड़ाई छात्र की साइकिल को पीछे से आ रही बस ने रौंद दिया. साइकिल पर सवार छात्र के सिर के ऊपर से बस का पहिया निकल गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

स्कूल जा रहा था आर्यन

टीपी नगर थानाक्षेत्र के मोहकमपुर निवासी आर्यन पुत्र मनोज कुमार मेरठ के डीएन इंटर कॉलेज में कक्षा 9 का छात्र था. वो अपने मां, एक छोटे भाई और दो छोटी बहनों के साथ मोहकमपुर स्थित नाना के घर पर रह रहा था. जानी थानाक्षेत्र के पावटी गांव निवासी पिता मनोज कुमार ने मां और बच्चों को लंबे समय से छोड़ रखा है. मां गुजर-बसर के लिए घरों में बर्तन साफ करने और झाडू-पोछा का काम करती है तो बुजुर्ग नाना दिल्ली रोड पर फलों की ठेल लगाता है. भाई-बहनों में सबसे बड़ा आर्यन भी स्कूल के बाद नाना के साथ फलों के ठेल पर बैठता है. आर्यन का छोटा भाई राजन भी डीएन कॉलेज में कक्षा 9 का ही छात्र है. शनिवार को आर्यन सुबह नाना के घर (मोहकमपुर) से साइकिल से स्कूल के लिए निकला तो वहीं छोटा भाई राजन माधवपुरम स्थित अपने एक रिश्तेदार के घर से सीधा स्कूल चला गया.

अनियंत्रित बस ने रौंदा

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक आर्यन जैसे ही मेवला फ्लाईओवर पर पहुंचा, पीछे से आ रहे एक ई-रिक्शा से उसकी साइकिल को क्रॉस किया. तेज गति के ई-रिक्शा के कट से आर्यन की साइकिल लड़खड़ाई तो पीछे से तेज गति से आ रही रोडवेज की बस ने ई-रिक्शा की टक्कर के बाद मेवला फ्लाईओवर पर अनियंत्रित बस की चपेट में आ गया. बस का पहिया आर्यन के सिर से निकल गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई. आनन-फानन में लोग आर्यन को लेकर केएमसी पहुंचे जहां से डॉक्टरों ने उसे मेडिकल रेफर कर दिया.

स्कूल में मचा कोहराम

आर्यन डीएम स्कूल की ड्रेस में था सो थाना टीपी नगर का एक सिपाही मोबाइल में छात्र का फोटो लेकर स्कूल पहुंच गया. यहां वाइस प्रिंसिपल एके किरोरी ने एसेंबली के बाद सभी छात्रों को मोबाइल का फोटो दिखाया. कक्षा 9 सी के छात्र राजन ने फोटो को पहचान लिया और बताया कि ये (आर्यन) उसका भाई है. प्रिंसिपल सुशील कुमार सिंह के छोटे भाई राजन को ढांढस बंधाया और स्कूल के एक शिक्षक के साथ उसे घर भेजा. इधर स्कूल पि्रंसिपल ने आनन-फानन में छात्र का पोस्टमार्टम कराया और शव को घर भिजवाया.

सांत्वना देने पहुंचे प्रिंसिपल

घटनाक्रम की जानकारी के बाद डीएम कॉलेज में सनसनी फैल गई. गरीब छात्र की मौत से हर कोई विचलित नजर आ रहा था तो वहीं दोपहर बाद कंडोलेंस के बाद स्कूल की छुट्टी का दी गई. वहीं दूसरी ओर प्रिसिंपल, वाइस प्रिंसिपल, शिक्षक नागेंद्र सिंह, युवराज शर्मा आदि ने छात्र के घर पहुंचकर परिजनों को सांत्वना दी. प्रिंसिपल ने छात्र के परिजनों को आर्थिक मदद दिलवाने के लिए जिला प्रशासन को पत्र लिखने की बात भी कही तो वहीं कॉलेज का स्टॉफ भी गरीब महिला की आर्थिक मदद करेगा.

छात्रों ने किया हंगामा

कंडोलेंस के बाद डीएम कॉलेज के छात्रों ने सड़क दुर्घटना में हुई साथी की मौत पर हंगामा किया. हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस ने हंगामा कर रहे छात्रों को खदेड़ दिया.

निकलवाई सीसीटीवी फुटेज

मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले. फुटेज में छात्र के पीछे चल रहा और रोडवेज की बस नजर आ रही है. हादसे के बाद लोगों ने घटना के विरोध में जमकर हंगामा भी किया.

टीपी नगर थानाक्षेत्र स्थित मेवला फ्लाईओवर पर बस में चपेट में आने से छात्र की मौत हो गई है. सीसीटीवी फुटेज में हादसे से पूर्व छात्र और उसके पीछे चल रहे वाहनों की तस्वीर आ रही है. वाहन की तलाश की जा रही है.

डालचंद्र, इंस्पेक्टर, थाना टीपी नगर