-कैंट रोडवेज बस स्टेशन से नहीं चलेंगी प्रयागराज के लिए रोडवेज बसें

-कलेक्ट्री फार्म से ही कुंभ के लिए होगा बसों का संचालन

काशी से कुंभ को जोड़ने की तैयारियां उत्तर प्रदेश परिवहन निगम ने पूरी कर ली हैं. रोडवेज विभाग के बनारस रीजन की ओर से कुंभ जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए 30 अतिरिक्त बसें चलाई जा रही हैं. इन बसों के लिए रूट भी निर्धारित कर दिया गया है. मगर कैंट रोडवेज बस स्टेशन से कुंभ जाने के लिए बसें नहीं मिलेंगी. फ्लाईओवर निमार्ण कार्य के चलते रोडवेज की सभी बसें चांदपुर स्थित कलेक्ट्री फार्म से ही चलेंगी. इस वजह से यात्रियों को कैंट से चांदपुर तक का सफर तय करना होगा, काशी से प्रयागराज तक अप-डाउन करने के लिए यात्रियों को चांदपुर में ही चढ़ना-उतरना होगा. उसके बाद ऑटो व अन्य साधनों से कैंट रोडवेज बस अड्डे तक का सफर तय कर पाएंगे. रोडवेज प्रशासन की ओर से हर पांच मिनट पर कुंभ के लिए बसों की उपलब्धता का दावा किया गया है.

30 नई बसें पहुंची हैं बनारस

कुंभ के मद्देनजर रोडवेज बनारस रीजन को 30 नई बसें दी गई हैं. बाकी आठों डिपो से बसों का जिस तरह से संचालन किया जा रहा है, उसी तरह होगा. कैंट डिपो की बसें कलेक्ट्री फार्म से ही चलेंगी. जब तक फ्लाईओवर का निर्माण पूरा नहीं हो जाता तब तक कैंट-लहरातारा पुल रूट पर बसों को नहीं चलाया जाएगा. इस वजह से रोडवेज बसों को पकड़ने के लिए कलेक्ट्री फार्म में ही अस्थाई स्टैंड बना दिया गया है.

पीड़ा से होकर गुजरेंगे श्रद्धालु

चांदपुर, कलेक्ट्री फार्म इलाके में सुबह-शाम वाहनों के अधिक दबाव के चलते यहां पब्लिक को जाम की समस्या फेस करनी पड़ रही है. रोडवेज की ढाई सौ बसों और इतनी ही करीब प्राइवेट वाहनों की कतार चौराहें के आसपास लग रही है. इस वजह से जाम ज्यादा लग रहा है. कुंभ अप-डाउन करने वाले श्रद्धालुओं को इस पीड़ा से होकर गुजरना होगा. यहीं से चंदौली, विंध्यनगर, मिर्जापुर, सोनभद्र, भदोही, इलाहाबाद, चित्रकूट, मथुरा, बांदा, कानपुर, नई दिल्ली, आगरा तक एसी और नॉन एसी बसें भी चल रही हैं मगर, इतने ही संख्या में छोटे-बड़े डग्गामार वाहन भी दौड़ रहे हैं.

हर रूट पर डग्गामार वाहन

फ्लाईओवर हादसे के बाद कैंट- लहरतारा मार्ग बंद होने से डग्गामार वाहनों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है. इलाहाबाद और चंदौली सहित मिर्जापुर, सोनभद्र रूट पर प्राइवेट वाहनों की संख्या कलेक्ट्री फार्म से बढ़ गई है.

बनारस डिवीजन

एक नजर

08

डिपो से चलेंगी हर पांच मिनट पर कुंभ के लिए बसें

30

नई बसें कुंभ के लिए रहेंगी परमानेंट अवेलेबल

250

रोडवेज बसें कलेक्ट्री फार्म से चल रही हैं

15

मई से कैंट-लहरतारा रूट है बंद

10

लाख रुपये रोजाना लग रही है रोडवेज विभाग को चपत

वर्जन-

प्रयागराज रूट के लिए तो बसें कलेक्ट्री फार्म से ही चलेंगी. जब तक फ्लाईओवर निर्माण कार्य पूरा नहीं हो जाता तब तक रूट बाधित ही रहेगा.

केके शर्मा, आरएम