केंद्र का बयान-

- चौबीस घंटे खुल सकेंगी दुकानें, मॉल और सिनेमा हॉल

प्रतिक्रिया-

- पहले केंद्र और राज्य सरकार कारोबारियों को सुरक्षा मुहैया कराए.

Meerut : दुकानें, मॉल और सिनेमा हॉल सहित विभिन्न व्यापारिक प्रतिष्ठान अब रोजाना 24 घंटे और सप्ताह के सातों दिन खुल सकेंगे. सरकार ने लंबित सुधारों को लागू करने की दिशा में अहम कदम बढ़ाते हुए मॉडल शॉप्स एंड इस्टेब्लिशमेंट विधेयक 2016 के मसौदे को मंजूरी दी है. केंद्र सरकार की इस पहल को मेरठ के कारोबारियों ने नकार दिया है.

सुरक्षा अहम मुद्दा

संयुक्त व्यापार मंडल के अध्यक्ष नवीन गुप्ता ने केंद्र के इस फैसले पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि कारोबारियों की सुरक्षा अहम मुद्दा है. देर रात्रि तक दुकान खोलने वाले कारोबारी को सुरक्षा कौन देगा? बात करें मेरठ की तो यहां दिनदहाड़े ज्वैलर्स की दुकान में ड़ाका पड़ जाता है. पेट्रोल पंप कारोबारी को सरेराह गोली मारकर लूट लिया जाता है. देर रात्रि तक कारोबार या साप्ताहिक बंदी कारोबारी की मांग कभी नहीं रही.

एमएनसीज को फायदा

अध्यक्ष ने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि वैसे भी यह फैसला आम कारोबारी के लिए नहीं बल्कि मल्टीनेशनल कंपनियों के लिए है. शॉपिंग मॉल्स के लिए है. केंद्र सरकार के इस फैसले पर मेरठ की जनता ने भी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. रात्रि में शॉपिंग करने से ज्यादा महत्वपूर्ण सुरक्षा मुहैया कराना है.