-छीपीटोला के होटल से पुलिस ने ताला तोड़कर निकाला रूम से बाहर

-20 दिन से तलाश में जुटे परिजनों को अंबाला में खड़ी मिली थी कार

आगरा. छीपीटोला स्थित होटल में दिल्ली का कारोबारी मंगलवार को बेहोश मिला. दरवाजा तोड़कर पुलिस ने निकाला. वह 20 दिन से लापता था. कारोबारी परिवार से नाराज होकर घर से निकल आया था. कमरे से बड़ी संख्या में पुलिस को नशीली दवा मिलीं.

नहीं खोला दरवाजा

दिल्ली मेंतिगड़ी निवासी 26 वर्षीय वैभव गोयल सोमवार को छीपीटोला स्थित होटल एसडी रेजीडेंसी में ठहरे थे. शाम सात बजे लौटने के बाद कमरे में बंद हो गए. मंगलवार सुबह 10 बजे रिसेप्शन पर फोन किया. कर्मचारी के पहुंचने पर दरवाजा नहीं खोला. स्टाफ की सूचना पर पुलिस ने दरवाजा तोड़ा. बेड पर पड़े वैभव के मुंह से झाग निकल रहा था. कमरे में बड़ी संख्या में नशीली दवाएं मिलीं.

नाराज होकर छोड़ा था घर

व्यापारी को एसएन इमरजेंसी में भर्ती करा पुलिस ने परिजनों को जानकारी दी. उन्होंने पुलिस को बताया कि वैभव नाराज होकर 20 दिन पूर्व घर से चले गए थे. उनकी कार कुछ दिन पहले अंबाला में मिलने पर उन्हें पंजाब और हरियाणा में तलाश रहे थे. वह वैभव को एसएन से रेफर कराके एंबुलेंस से दिल्ली ले गए. सीओ सदर उदय राज सिंह ने बताया वैभव के कमरे से पुलिस को नशीली दवाएं एवं इंजेक्शन मिले हैं. उनकी मात्रा अधिक होने से उसकी हालत बिगड़ गई थी.

पहचान छिपाने को तोड़ा मोबाइल-सिम

वैभव गोयल ने अपनी पहचान छिपाने के लिए मोबाइल और सिम तोड़ दिया था. इससे कि पुलिस परिवार को सूचित न कर सके. संयोग से एसएन का जूनियर डॉक्टर वैभव का परिचित निकला. उसके परिजनों के बारे में पुलिस को जानकारी दी.