कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कारोबारी के कर्मचारी रवि को हिरासत में लिया

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: कोतवाली क्षेत्र के जीरो रोड मोहल्ले में रहने वाले मसाला कारोबारी पंकज पुरवार को खत भेजकर 20 लाख रुपये की रंगदारी मांगी गई. रंगदारी न मिलने पर परिवार को मौत के घाट उतारने की धमकी दी गई थी. कारोबारी ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई. पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि खत के जरिए रंगदारी व धमकी देने वाला कोई और नहीं बल्कि कारोबारी के यहां काम करने वाला कर्मचारी रवि तिवारी का भतीजा छोटू है. पुलिस उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

भारती भवन मोहल्ले में कारोबार

जीरो रोड में रहने वाले पंकज पुरवार क्षेत्र के एक बड़े कारोबारी है. उनका मसाला का कारोबार हैं. उन्होंने अपना कारोबार भारती भवन मोहल्ले में खोल रखा है. पंकज ने पुलिस को बताया कि वे 30 सितंबर को दुकान पर बैठे थे तभी दो युवक पहुंचे और सामन लेने के बहाने काउंटर पर धमकी भरा लेटर छोड़ दिया. जब उन्होंने लेटर पढ़ा तो परेशान हो गए. दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज को चेक करवाया तो दो युवक काउंटर के पास खत रखते दिखे. कारोबारी ने एक की पहचान छोटू पुत्र रमाशंकर निवासी भभोखर कौंधियारा के रूप में की. इंस्पेक्टर कोतवाली रविंद्र सिंह यादव ने बताया कि अभियुक्त से पूछताछ की जा रही है. उसके साथी की तलाश चल रही है.

सोहागी पहाड़ पर पहुंचाना पैसा

कोतवाली पुलिस के हाथ धमकी भरा खत लगा है. उसमें लिखा है कि आप कि जिंदगी बहुत कीमती है. लेकिन हमने सिर्फ 20 लाख लगाई है. पैसा एक सितंबर को तीन से चार बजे तक हमारे बताए हुए स्थान पर पहुंच जाना चाहिए. ये स्थान है रीवा रोड सोहागी पहाड़ अड़गड़ानाथ जी का मंदिर. पैसा हमारे लिए उतना जरूरी नहीं है, जितना की आपके इकलौते बच्चे और बीमार पिता, पत्‍‌नी हैं.