इंग्‍लैंड में मौजूद दुनिया की फेमस कैंब्रिज यूनिवर्सिटी आजकल इस बारे में सोच रही है कि वो स्‍टूडेंट्स के रिटेन एग्जाम कराना बंद कर दे। इसके पीछे जो वजह है वह बड़ी चौंकाने वाली है। दरअसल डिजिटल टेक्‍नोलॉजी के इस दौर में ज्‍यादातर स्‍टूडेंट्स सिर्फ मोबाइल और लैपटॉप ही काम करते हैं। कुछ भी लिखना या नोट करना हो तो वे मोबाइल या कंप्‍यूटर पर टाइप करते हैं। इसकस नतीजा यह हुआ है कि स्‍टूडेंट्स की हैंडराइटिंग इतनी ज्‍यादा खराब हो गई है। जिसे पढ़ पाना यहां के टीचर्स के लिए आफत बन गया है।
ये वर्ल्ड फेमस यूनीवर्सिटी written exam बंद करने वाली है,वजह ऐसी कि सिर पीट लेंगे

कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के कई प्रोफेसर स्‍टूडेंट्स की खराब हैंडराइटिंग से परेशान हो चुके हैं। ऐसे में रिटेन एग्‍जाम में टीचर्स के लिए छात्रों की कॉपियां चेक कर उन्‍हें सही मार्क्‍स देना कठिन होता जा रहा है। यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले इन स्टूडेंट की राइटिंग को अब इस उम्र में सुधार पाना तो बहुत टेढ़ी खीर है।

ये वर्ल्ड फेमस यूनीवर्सिटी written exam बंद करने वाली है,वजह ऐसी कि सिर पीट लेंगे

20 साल से एक ही टी-शर्ट पहन रहा है यह आदमी, वजह! दिल छू लेगी आपका

आपको मालूम ही होगा कि प्राइमरी एजुकेशन में तो जो स्टूडेंट अच्छी राइटिंग में लिखते हैं तो उन्हें राइटिंग के एक्स्ट्रा मार्क्स मिलते हैं लेकिन हायर एजुकेशन में राइटिंग अधिक नंबर पाने का कोई पैमाना नहीं होती। यही सब सोचकर यूनिवर्सिटी प्रशासन अपने यहां रिटेन एग्जाम को खत्म कर डिजिटल यानि लैपटॉप बेस्‍ड एग्जाम कराने की बात कर रहा है। हालांकि यूनिवर्सिटी द्वारा ऐसा करने को लेकर तमाम पेरेंट्स विरोध भी कर रहे हैं। उनका कहना है कि ऐसा होने पर तो बच्चे लिखना ही भूल जाएंगे। Source


12 की उम्र से शादी के दिन तक हर रोज ली एक सेल्फी और बना डाला दुनिया का सबसे अनोखा वीडियो

Interesting News inextlive from Interesting News Desk

International News inextlive from World News Desk