हेल्पलाइन नंबर के तौर पर यूज होता है डीआईओएस, जेडी व क्षेत्रीय बोर्ड कार्यालय का डॉट फोन

Meerut. यूपी बोर्ड की परीक्षाएं शुरू होने में मात्र 20 दिन रह गए हैं लेकिन बोर्ड कार्यालय की ओर से अभी तक हेल्पलाइन नहीं बनी हैं. गत वर्षो में भी इन हेल्पलाइन को लेकर बोर्ड की ओर से लापरवाही बरती जाती रही है. जिसके चलते छात्रों को कापी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है.

109 सेंटर बनाए गए 10वीं और 12वीं में परीक्षा के लिए कुल

402 स्कूल मेरठ में माध्यमिक शिक्षा परिषद के

46,983 10वीं के रेग्यूलर परीक्षार्थी

26,982 लड़के

20,001 लड़कियां

42,675 12वीं में रेग्यूलर परीक्षार्थी

24,552 लड़के

18,123 लड़कियां

4,800 परीक्षार्थी 10वीं और 12वीं की प्राइवेट परीक्षा में

हेल्पलाइन का निर्धारण परीक्षाओं से एक हफ्ते पहले ही किया जाता है. पूर्व में इन हेल्पलाइन में कुछ दिक्कत आ गई थी. इस बार इन्हें सख्ती से लागू किया जाएगा.

सरदार सिंह, डीआईओएस, मेरठ