क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : बड़कागांव विधायक निर्मला देवी और झारखंड के पूर्व मंत्री योगेन्द्र साव की बेटी अम्बा साव पर भीड़ को उकसा कर हत्या करवाने के गंभीर आरोप लगे हैं. इस हत्याकांड में उनके साथ पूर्व विधायक लोकनाथ महतो के भी शामिल होने का आरोप है. मामले में पीडि़ता सारो देवी ने कोर्ट में बयान देते हुए इंसाफ की मांग की है. सारो देवी के इस बयान के बाद हजारीबाग पुलिस ने अंबा व लोकनाथ दोनों के खिलाफ हत्या में शामिल होने की धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है.

कैलाश और प्रकाश हैं चश्मदीद

सारो देवी ने पुलिस को बताया है कि घटनास्थल पर उनके गांव के कैलाश महतो और प्रकाश महतो दोनों हाइवा चालक मौजूद थे और उनके सामने अम्बा देवी और लोकनाथ महतो ने भीड़ को टिकेश्वर की हत्या करने का आदेश दिया जिसके बाद आक्रोशित भीड़ ने उन्हें मार गिराया. दोनों चश्मदीदों के बयान के आधार पर गिरफ्तारी की मांग की गयी है.

क्या है पूरा मामला

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट को सारो देवी के द्वारा दिए गए बयान की कॉपी मिली है जिसमें उन्होंने कहा है कि 6 मई को उनके पति टिकेश्वर महतो हाइवा लेकर चलाने निकले थे.इसी क्रम में एक ट्रैक्टर के साथ एक्सिडेंट हो गया जिसमें टै्रक्टर चालक की मौत हो गयी. घटनास्थल पर योगेन्द्र साव की बेटी अम्बा साव व लोकनाथ महतो मौजूद थे. अम्बा साव ने भीड़ को कहा कि टिकेश्वर को मार दो जिसके बाद भीड़ ने टिकेश्वर की हत्या कर डाली.

पिता जिला बदर तो मां के खिलाफ भी कई मामले

उल्लेखनीय है कि पूर्व मंत्री योगेन्द्र साव को फिलहाल उग्रवादियों व नक्सलियों के साथ साठ गांठ के आरोपों के कारण जिला बदर किया गया है, वहीं उनके पति व विधायक निर्मला देवी के खिलाफ भी कई शिकायतों पर जांच तल रही है.