- नए राशन कार्ड में एक लाख से ज्यादा कार्ड होल्डर्स के नाम समेत जाति बदले जाने से मचा हड़कंप

- डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट में पहुंचने वाले कार्ड होड‌र्ल्स की समस्या दबर कराने में अधिकारियों के छूट रहे पसीने

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR: ए साहब, राशन कार्ड में हमार जतिए बदल गईल बा.. इस तरह की लगभग एक लाख से ज्यादा शिकायतें गोरखपुर डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट के पास पहुंची हैं. पता चला है कि जितने भी नए राशन कार्ड बनकर आए और उनका वितरण शुरू किया गया, उनमें करीब एक लाख से ज्यादा राशन कार्डो में मिस्टेक है. किसी कार्ड होल्डर के नाम में गलती है तो किसी के जाति ही बदल दी गई है. हद तो ये कि सामान्य वर्ग के कार्ड होल्डर्स को पिछड़ा वर्ग का बना दिया गया है. इस तरह की सैकड़ों समस्याएं सामने आने से डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट के अधिकारियों के भी हाथ पांव फूलने लगे हैं. किसी भी अधिकारी के पास इस बात का जवाब नहीं है कि आखिर इन गलतियों को सुधारा कैसे जाए.

सिटी से रूरल तक समस्या
बता दें, गोरखपुर जिले के नगरीय क्षेत्र में कुल 340 कोटेदार हैं. वहीं ग्रामीण क्षेत्र में 1,707 कोटेदार हैं. इन लोगों के पास तमाम राशन कार्ड होल्डर्स ये शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं कि नए वाले राशन कार्ड में या तो नाम सही नहीं है या तो जाति वाले कॉलम में सामान्य वर्ग को पिछड़ा वर्ग लिख दिया गया है. कई लोगों के कार्ड में तो परिवार के सदस्यों के नाम में भी तमाम खामियां हैं. कोटेदारों द्वारा टरका दिए जाने के चलते परेशान पब्लिक डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट में अधिकारियों के पास पहुंचने लगी है. कुछ ऐसे भी कार्ड होल्डर्स हैं जिन्होंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से भी की है.

एक लाख से ज्यादा शिकायतें
डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट के अधिकारियों की मानें तो जिलेभर में पात्र गृहस्थ (उपभोक्ता) कार्ड धारकों की संख्या 1,26,392 है जबकि 6,31,836 अंत्योदय कार्ड धारक हैं. इनमें करीब एक लाख से ज्यादा ऐसे कार्ड होल्डर्स हैं जिनके कार्ड में इस तरह की गलती सामने आई है. जिम्मेदारों का दावा है कि इनके करेक्शन की व्यवस्था की जा रही है. लेकिन हकीकत यह है कि डिस्ट्रिक्ट सप्लाई डिपार्टमेंट की तरफ से ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की जा रही, जिससे लोगों के कार्ड के मिस्टेक की समस्या को दुरुस्त कराया जा सके.

फैक्ट फिगर
नगरीय क्षेत्र में कोटेदार - 340
ग्रामीण क्षेत्र में कोटेदार - 1,707
कुल कोटेदार - 2,047
पात्र गृहस्थ (उपभोक्ता) कार्ड धारक - 1,26,392
अंत्योदय कार्ड धारक - 6,31,836
पात्र गृहस्थ (उपभोक्ता) कार्ड धारक को मिलने वाला राशन (प्रति यूनिट)
गेहूं - 3 केजी
चावल - 2 केजी
तेल - 2 लीटर
अंत्योदय कार्ड धारक को मिलने वाला राशन (प्रति यूनिट)
गेहूं - 20 केजी
चावल - 15 केजी
तेल - 3.5 लीटर

कंप्यूटर ऑपरेटर की तरफ से ये गलतियां हुई हैं. इसके लिए सप्लाई इंस्पेक्टर करेक्शन करके दे रहे हैं. जिसके कार्ड पर करेक्शन नहीं हुए हैं वे हमारे पास लाएं, उनके करेक्शन करा दिए जाएंगे.

- आनंद सिंह, डीएसओ